जलवायु परिवर्तन पर जताई चिंता, वृक्षारोपण करने का लिया संकल्प
.
हरदोई। माधौगंज के रुइयागढ़ी में डीएलएड प्रशिक्षुओं ने पांच दिवसीय स्पेशल इंट्रोड्क्टरी कोर्स में बिना बर्तन के भोजन बनाना, जलवायु परिवर्तन आदि के बारे में प्रशिक्षण प्राप्त किया। स्काउट एन्ड गाइड के प्रशिक्षकों ने उन्हें बिना संसाधनों के जीवन यापन व दूसरों की मदद के लिए प्रशिक्षित किया। इस कैम्प में  स्थानीय 03 कॉलेज के 114 महिला व पुरूष प्रशिक्षुओं ने हिस्सा लिया। इस दौरान स्काउट एन्ड गाइड संस्था के अध्यक्ष अभय शंकर गौड़ मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद रहे।

दरअसल कस्बे के भीमराव अंबेडकर महाविद्यालय में 3 जून से चल रहे प्रशिक्षण का समापन दो किलोमीटर दूर अमर शहीद राजा नरपति सिंह के शौर्य स्थल रुइया गढ़ी पर सम्पन्न हुआ।मुख्य अतिथि आकाशवाणी संवाददाता अभय शंकर गौड़ ने सभी स्काउट गाइड के साथ राजा नरपति सिंह की प्रतिमा पर श्रद्धासुमन अर्पित कर उनके शौर्य के बारे में बताया। श्री गौड़ ने स्काउट गाइड को सम्बोधित करते हुए कहा कि देश की निःस्वार्थ भाव से सेवा करने की प्रेरणा इससे मिलती है। जंगलो में बिना बर्तन के भोजन बनाने के तरीकों को सीखा है इससे हर परिस्थितियों में आत्मनिर्भर बनाने के लिए है। उन्होंने स्काउट गाइड को कर्तव्य पालन करने के लिए प्रेरित किया। 

मुख्य अतिथि श्री गौड़ व विशिष्ट अतिथि डायट प्रवक्ता रामप्रकाश भारतीय व नीलम ने तम्बुओं का निरीक्षण किया।जिला संगठन आयुक्त रमेश चंद्र वर्मा ने बताया कि पीएल वर्मा महाविद्यालय डकौली, दिव्य कृपाल पीजी कॉलेज गोसवा व बीआर अम्बेडकर महाविद्यालय माधौगंज के डीएलएड प्रशिक्षुओं ने भाग लिया। इस दौरान प्रशिक्षक पूनम गौतम, शैलेश प्रकाश एवं केशव मौर्य ने प्रशिक्षण दिया। इस मौके पर विनोद दीक्षित, राजीव मिश्रा के अलावा सैकड़ों डीएलएड प्रशिक्षु मौजूद रहे।
Share To:

Post A Comment: