माधौगंज हरदोई। न्यायालय के आदेश पर ए एन एम और उसकी पुत्रवधू के विरुद्ध लगभग 10 माह बाद बच्चा गिराने का मुकदमा दर्ज किया गया थानाध्यक्ष अमित सिंह भदौरिया ने जांच कर कार्यवाही के लिए कहा 
बिलग्राम थाना क्षेत्र के मोहल्ला काजीपुरा निवासी शानू पुत्र शफीक ने न्यायालय में दिए प्रार्थनापत्र में कहा कि सितंबर 2018 में उसकी पत्नी चंदा के पेट मे दर्द बढ जाने के कारण वह सी एच सी माधौगंज गया जहाँ पर पुष्पा पत्नी रामकुमार मिली उन्होंने अपने को डॉक्टर बताते हुए घर पर इलाज़ करने की बात कही जिस पर वह उनके साथ उनके घर गया वहां पर पुष्पा ए एन एम और उसकी बहू द्वारा दवा और इंजेक्शन दिए जिसपर उसका 4 माह का गर्भपात हो गया और उसकी पत्नी की भी हालत बहुत बिगड़ गई जिस पर उसे कन्नौज मेडिकल कालेज में भर्ती कराया गया नर्स द्वारा इलाज़ के लिए 8 हजार रुपये भी ले लिए गए मेडिकल कालेज से वापस आने पर पुष्पा से आप बीती सुनाने गया तब उन्होंने भद्दी भद्दी गालियां देते हुए देख लेने की धमकी दी थाने और उच्य अधिकारियों को शिकायत करने के बावजूद उसकी रिपोर्ट दर्ज नही की गई जिससे वह न्यायालय की शरण मे जाना पड़ा न्यायालय की तहरीर पर पुलिस ने दो लोगों के विरुद्ध मुकदमा पंजीकृत किया
Share To:

Post A Comment: