तुरंत कार्यवाही नही करने पर,अब ड्यूटी पुलिस अधिकारी के खिलाफ भी दर्ज होगा धारा 166-ए में अपराध

मानव अधिकार आयोग ने, आईजी भोपाल से एक माह में माँगा प्रतिवेदन

(राजेन्द्र के. गुप्ता 98270-70242)

केन्द्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्यों और संघशासित क्षेत्रों को निर्देश जारी कर कहा है कि, वो अपने राज्य के सभी थानों को स्पष्ट रूप से यह निर्देश दें कि, किसी संज्ञेय अपराध के बारे में थाने को सूचना मिलने पर यदि एफआईआर दर्ज नहीं की गई तो भारतीय दंड संहिता की धारा 166-ए के तहत ड्यूटी पुलिस अधिकारी पर कानूनी कार्रवाई की जाएगी। जिसमें एक साल तक की कारावास का प्रावधान है। भोपाल कांड पर मानव अधिकार आयोग ने आईजी भोपाल से एक माह में प्रतिवेदन माँगा है ।

Share To:

Post A Comment: