आईपीएस की पत्नी को सैल्यूट व बच्चों को स्कूल छोड़ना पड़ता है, 20-20 लोग बंगलों पर लगा रखे

📞📞📞📞📞📞📞📞📞📞📞

पूर्व आरक्षक ने गृहमंत्री से की शिकायत, सोशल मीडिया पर डाला ऑडियो

☎☎☎☎☎☎☎☎☎☎☎


नीमच .प्रदेश के गृहमंत्री बाला बच्चन को मोबाइल फोन पर कॉल कर एक व्यक्ति ने खुद को नीमच निवासी पूर्व आरक्षक नंदकुमार चाैहान बताते हुए पुलिस अधिकारियों की गंभीर शिकायतें की हैं। चौहान ने गृहमंत्री को बताया कि आईपीएस अफसरों को 4 से 5 कर्मचारियों की पात्रता रहती है। लेकिन वर्तमान में उनके बंगलों पर 20-20 लोग काम करते हैं। अफसर तो दूर उनकी पत्नी और बच्चे भी कर्मचारियों पर हुकुम चलाते हैं। फोन पर हुई बातचीत के अंश का एक ऑडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो चुका है। चौहान ने गृहमंत्री से उचित कदम उठाने की मांग की है।

पूर्व आरक्षक और गृहमंत्री के बीच बातचीत के मुख्य अंश

पूर्व आरक्षक- हैलो, सर नमस्कार, माननीय गृहमंत्री महोदय से बात हो रही है?

गृहमंत्री- हां, हो रही है।

पूर्व आरक्षक- सर अभी जो पुलिस की कार्यशैली और लॉ एंड ऑर्डर पर सवाल उठ रहे हैं, उनसे संबंधित बात करना थी आपसे।

गृहमंत्री- आपका क्या नाम है और कहां से बोल रहे हैं? (परिचय लेने के बाद) हां बोलिए।

पूर्व आरक्षक- वर्तमान में 400 से 500 आईपीएस हैं। उनको सरकार से सुविधा मिली है कि बंगले पर 4 से 5 कर्मचारियों को लगा सकते हैं लेकिन बंगले पर 20-20 लोग लगे हैं। यह स्थिति पूरे प्रदेश में है। फील्ड में कार्य करने वाले बंदे बंगलों पर कार्य कर रहे हैं। इस कारण लॉ एंड ऑर्डर प्रभावित होगा ही। आपके गृहमंत्री बनने के बाद भी कुछ नहीं हुआ।

गृहमंत्री- जरूर करूंगा। मैंने कल से बैठक शुरू की है। तुम्हारा जिला उज्जैन संभाग में आता है तो कल ही बैठक बुलाई है।

पूर्व आरक्षक- अधिकारियों की पत्नी को सैल्यूट करना होता है। उनके ऑर्डर सुनने पड़ते हैं। बच्चों को स्कूल छोड़ना होता है। ये कोई रूल में नहीं है। 

गृहमंत्री - हां, मैं जानता हूं।

हम संज्ञान में लेंगे

आज सुबह मेरे पास एक कॉल आया था जिसमें कोई नंदकुमार चौहान ने मुझसे बात की। वह पहले पुलिस में पदस्थ रहा है। उसके द्वारा बताई गई बातों को हम संज्ञान में लेंगे और कसावट भी लाएंगे। हम कल उज्जैन में मीटिंग ले रहे हैं। -बाला बच्चन, गृह मंत्री

चौहान के इसंबंध में जानकारी जुटा रहे हैं। इस नाम का कोई पूर्व आरक्षक नीमच जिले में पदस्थ नहीं रहा। वह जिले का निवासी हो सकता है । सोमवार को उज्जैन में बैठक में समूचे मामले में स्थिति स्पष्ट करेंगे। - राकेश कुमार सगर, एसपी, नीमच

Share To:

Post A Comment: