राजस्व और ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक

 कटनी - नवागत कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने कहा कि जिले के सभी अधिकारी और कर्मचारी टीम भावना से कार्य करें और अपने कर्तव्यों का बेहतर निर्वहन कर लोगों को गुणवत्तापूर्ण सेवायें उपलब्ध करायें। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में बुधवार को राजस्व और ग्रामीण विकास विभाग के अधिकारियों की परिचयात्मक और सयुक्त बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने गुरुवार को संभाग स्तर पर होने वाली राजस्व और ग्रामीण विकास विभाग की समीक्षा बैठक के एजेण्डानुसार कार्यों की समीक्षा की। इस मौके पर संयुक्त कलेक्टर सपना त्रिपाठी, एसडीएम बलबीर रमन व प्रिया चन्द्रावत, परियोजना अधिकारी ज्ञानेन्द्र सिंह, कार्यपालन यंत्री आरईएस सुरेश तेकाम सहित सभी सीईओ जनपद, तहसीलदार, नायब तहसीलदार और जिला पंचायत के अधिकारी उपस्थित थे।
कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि अनुविभागीय अधिकारी राजस्व महीने में दो बार जनपद सीईओ, बीएमओ, सीडीपीओ सहित ब्लॉक स्तर के अधिकारियों की बैठक लेकर हर 15 दिन में शासन और जिलास्तर से प्राप्त निर्देशों तथा शासकीय योजनाओं, कार्यक्रमों के क्रियान्वयन और विभागीय गतिविधियों की समीक्षा करें। उन्होने कहा के अनुविभागस्तर या विकासखण्ड स्तर की बैठकों में जनप्रतिनिधियों की भी भागीदारी लें।कलेक्टर ने कहा कि सभी अधिकारी अपने निर्धारित मुख्यालय पर निवास करें और बिना अनुमति मुख्यालय नहीं छोड़ें। कार्यालय में बैठने और क्षेत्र का दौरा करने का समय निर्धारित करें। आम लोगों से मिलने के लिये अपनी उपलब्धता भी बनाये रखें। टीम भावना से कार्य करते हुये लोगों की समस्याओं का निराकरण करें तथा अच्छी और बेहतर गुणवत्तायुक्त शासकीय सेवायें उपलब्ध करायें। प्रत्येक मंगलवार को होने वाली जनसुनवाई को प्रभावी बनायें तथा सीएम हेल्पलाईन के प्रकरणों का तत्परता पूर्वक निराकरण करें। उन्होने कहा कि एल-1 स्तर पर तत्काल शिकायत को अटेण्ड करें और आवेदक से बात कर संतुष्टिपूर्ण निराकरण करायें।कलेक्टर श्री सिंह ने राजस्व विभाग के अन्तर्गत लंबित सीमांकन, बटवारे सहित राजस्व प्रकरण, राजस्व शिविरों के आयोजन, भूमि आवंटन के लंबित प्रकरणों में प्रतिवेदन, राजस्व वसूली, राजस्व विभाग के स्वीकृत निर्माण कार्य आदि की समीक्षा की। उन्होने तहसीलदारों से तहसील की संरचना, स्टाफ संबंधी जानकारी ली। कलेक्टर ने सीईओ जनपद पंचायत से उनकी जनपद क्षेत्र की ग्राम पंचायतें, मनरेगा और अन्य योजनाओं के चल रहे कार्य, मजदूरी भुगतान, स्वच्छ भारत मिशन के कार्य की जानकारी भी ली। उन्होने कहा कि क्लस्टर स्तर पर पंचायत समन्वयक, पीसीओ और मैदानी स्तर के अधिकारी, पटवारी भी उपस्थित रहकर लोगों की समस्यायें सुनें।
Share To:

Post A Comment: