लखनऊ चुंगी से निरीक्षण भवन तक किसी भी तरह के ठेले आदि न लगने की सख्त चेतावनी
.
हरदोई। शहर को अतिक्रमण मुक्त रखने तथा यातायात व्यवस्था सुदृढ़ एवं सुव्यवथित बनाये रखने के सम्बन्ध में कलेक्ट्रेट सभागार मेें क्षेत्राधिकारियों के आहूत बैठक की अध्यक्षता करते हुए जिलाधिकारी पुलकित खरे ने लिखित में पत्र जारी करते हुए सख्त निर्देश दिए कि नगर के किसी भी चौराहों पर अकारण जाम होता है या चौराहों पर लगे 100 मीटर की परिधि में वाहन खड़ा करना मना है उस परिधि के अन्दर वाहन खड़ा पाया गया, नोवेन्डिग जोन में ठेले लगे मिले तो सीधे चौकी ईचार्ज को निलम्बित किया जायेगा। 

बैठक में क्षेत्राधिकारी नगर, सीओ सिटी, प्रभारी निरीक्षक थाना कोतवाली शहर व देहात को जिलाधिकारी ने सख्त हिदायत देते हुए कहा कि सभी नगर पालिका के ईओ के साथ बैठकर नगर में हो रही जाम की समस्या को हल करने के लिए प्लान बनाकर अभियान चलायें और लखनऊ चुंगी से निरीक्षण भवन तक किसी भी तरह के ठेले आदि न लगने दें, और इस रोड को पूरी तरह अतिक्रमण मुक्त रखें। बैठक में जिलाधिकारी ने नगर मजिस्ट्रेट एवं सिओ सिटी से कहा कि वह भी नियमित नगर की सड़कों का निरीक्षण करते रहे और अतिक्रमण करने एवं ठेले आदि लगाने वालों पर कड़ी कार्यवाही करते हुए जुर्माना वसूल करें।

उन्होने बैठक में निर्देश दिये कि सभी प्रभारी नियमित व्यक्तिगत रूप से अपने क्षेत्रों के पेट्रोल पम्पों की चेकिंग करें और चेकिंग के दौरान पेट्रोल पम्प के प्रपत्र आदि की भी जांच करें और किसी प्रकार की गड़बड़ी होने पर नगर मजिस्ट्रेट को तत्काल मोबाइल पर पेट्रोल पम्प का नाम पता सहित दें, और आम लोगों की सूचना पर सम्बन्धित पेट्रोल पम्प प्रबन्धक पर कड़ी कार्यवाही करते हुए जूर्माना वसूल किया जायेगा। नगर की यातायात व्यवस्था में भारी दिक्कत करने वाले मोटर साईकल एवं आटो रिक्शा चालकों के सम्बन्ध में श्री खरे ने प्रभारी निरीक्षकों को निर्देश दिये कि सभी मुख्य चौराहों पर खड़े होकर निकलने वाले प्रत्येक ई-रिक्शा की चेकिंग करें तथा चेकिंग के दौरान उसके समस्त कागज ठीक नहीं है, ड्राइवर के पास लाईसेंस नही है तथा वह बालिग भी नही है तो वाहन चालक के खिलाफ तत्काल कार्यवाही करते हुए रिक्शा सीज कर कोतवाली में खड़ा करायें और रिक्शा, मोटर साईकल व चार पहिया वाहनों को चौराहों के 100 मीटर के अन्दर सख्ती से किसी भी दशा में खड़ा होने न दें। 

जिलाधिकारी ने प्रभारी निरीक्षको निर्देश दिये कि बिना हेलमेट चलने वाले दुपरिया वाहन चालकों का चालन करें तथा तत्काल 500 रू0 जुर्माना वसूल करें और कितने ई-रिक्शा, दुपहिया व चौपहिया वाहन के चालान किये गये और कितनों से जुर्माना वसूली गया इसकी जानकारी प्रत्येक दिन की एक रजिस्टर पर दर्ज करेगें और प्रत्येक शनिवार सायं 05 बजे नगर मजिस्ट्रेट व सीओ सिटी की अध्यक्षता में होने वाली बैठक में सभी चौकी प्रभारी की गयी कार्यवाही प्रस्तुत करेगें तथा समीक्षा की जायेगी तथा समीक्षा के उपरान्त उसी दिन आख्या रात्रि 08 बजे तक नगर मजिस्ट्रेट द्वारा उन्हें उपलब्ध करायी जायेगी और समीक्षा में आख्या में खराब प्रगति वाले चौकी प्रभारियों को तत्काल प्रभाव से निलम्बित कर दिया जायेगा तथा इन लापरवाहियों का उत्तरदायी प्रभारी निरीक्षक को मानते हुए उनकी सेवा पुस्तिका में अंकित करते हुए अनुशासनिक कार्यवाही भी की जायेगी। 

नगर के व्यस्त मार्गो पर बड़े वाहनों के खड़े होने के सम्बन्ध में जिलाधिकारी ने एआरटीओ दीपक शाह को निर्देश दिये कि नगर के व्यस्त मार्गो पर नियमित खड़े होने वाले बड़े वाहनों के स्वामियों के विरूद्व कड़ी कार्यवाही करते हुए वाहन सीज करें। उन्होने उपस्थित समस्त प्रभारी निरीक्षकों से कहा कि इस कार्य में प्रशासन उनके साथ है और किसी भी तरह की सिफारिस को भी नहीं माना जायेगा, इस लिए निर्भय होकर अपने कार्यो को अंजाम दें। बैठक में पुलिस अधीक्षक आलोक प्रियदर्शी ने भी निर्देश दिये जिलाधिकारी के निर्देशानुसार नगर के किसी चौराहों पर जाम न लगने दें तथा बिना हेलमेट व यातायात नियमों का उल्लघन करने वालों पर कड़ी कार्यवाही करते हुए वाहन सीज कर दें। बैठक में नगर मजिस्ट्रेट गजेन्द्र कुमार, सीओ सिटी विजय राणा तथा क्षेत्राधिकारी मौजूद रहे।
Share To:

Post A Comment: