Amarnath yatra 2019

 पर आतंकी ख़तरा लगातार बना हुआ है. सुरक्षा एजेंसीज़ की रिपोर्ट के मुताबिक आतंकी ग्रुप अमरनाथ यात्रा पर हमले की साजिश रच सकते हैं. ऐसे में यात्रा की फूलप्रूफ सुरक्षा के लिए बड़े स्तर पर तैयारियां शुरू की जा चुकी है. मिली जानकारी के मुताबिक ख़ुफ़िया एजेंसीज़ ने अमरनाथ यात्रा पर आतंकी 6 तरीके से हमले का ख़तरा बताया है. 
अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा में लगी जम्मू कश्मीर पुलिस, सेना और सभी अर्धसैनिक बलों से कहा गया है कि वह हर ख़तरे को नाकाम करने के लिए पूरी तरह मुस्तैद रहें.
जानकारी के मुताबिक यात्रा में इस्तेमाल यात्रियों और सुरक्षा बलों की गाड़ियों पर RFID टैग के साथ पहली बार हर श्रद्धालुओं को खास तरीके का बार कोड दिया जायेगा, जिससे उनके लोकेशन के बारे में सही जानकारी मिल सके. यही नहीं, पहली बार यात्रियों के लिए जिन कैंप में ठहरने के इंतज़ाम किये गए हैं. उसमे भी बार कोड रीडर लगाये जा रहे हैं, जिससे कैंप में वही यात्री आ सके जिसको बार कोड दिया गया है.
आइये हम आपको बताते है कि अमरनाथ यात्रा पर क्या हैं 6 खतरे-:
1. ग्रेनेड के जरिये यात्रियों को आतंकी बना सकते है निशाना.
2. यात्रियों के कैंप पर आतंकी हमले की साजिश. 
3. अमरनाथ यात्रियों और सुरक्षा बलों पर सुसाइड अटैक.
4. यात्रा रूट को आईईडी धमाके के जरिये निशाना. 
5. यात्रियों का अपरहण.
6. सेना की वर्दी पहन कर हमला 

सुरक्षा एजेंसीज़ के मुताबिक घाटी में मौजूद हैं 290 आतंकी
अमरनाथ यात्रा पर जहां आतंकी हमले का खतरा बना हुआ है, वहीँ सुरक्षा एजेंसीज़ की रिपोर्ट के मुताबिक कश्मीर घाटी में करीब 290 आतंकी मौजूद हैं, जिसका इस्तेमाल अमरनाथ यात्रा पर हमले के लिए किया जा सकता है. रिपोर्ट के मुताबिक इनमें 34 पाकिस्तानी आतंकी हैं जो आईएसआई के इशारे पर सुरक्षा बलों को निशाना बना सकते हैं.
आइये हम आपको बताते है कि घाटी में मौजूद आतंकी ग्रुप्स के बारे में बताते हैं. कश्मीर में 290 आतंकियों के होने की जानकारी है, जिसमे सबसे ज्यादा लश्कर के आतंकी हैं.
Share To:

Post A Comment: