क्या आपने कभी सुना है कि गाय को कोर्ट में पेश किया गया हो, जी हां राजस्थान में गाय पर मालिकाना हक के विवाद के चलते गाय को कोर्ट में पेश किया गया। यह मामला राजस्थान के जोधपुर की स्थानीय कोर्ट का है। जहां मालिकाना हक के विवाद में कोर्ट के भीतर गाय को पेश किया गया। दो पक्ष ओम प्रकाश और श्याम सिंह के बीच गाय के मालिकाना हक का विवाद था, जिसके बाद उनके वकीलों ने इस मामले में कोर्ट के भीतर गाय को पेश किया।

इस मामले पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने कहा कि तमाम सबूतों के आधार पर गाय का मालिकाना हक ओम प्रकाश को दिया जाता है। दरअसल यह मामला काफी लंबे समय से चल रहा था। इससे पहले भी गाय को कोर्ट में पेश किया गया था। पिछले वर्ष जब गाय को कोर्ट परिसर में पेश किया गया था तो खुद पीठासीन अधिकारी ने कोर्ट के बाहर खड़ी गाड़ी में गाय को देखा और दोनों पक्षों की बात सुनी। दोनों ही पक्षों को गाय के पास खड़ा होने और उसे सहलाने, घुमाने का मौका दिया।

बता दें कि पेशे से श्याम सिंह शिक्षक हैं जबकि ओम प्रकाश कॉस्टेबल, दोनों के बीच गाय के मालिकाना हक को लेकर पिछले वर्ष से विवाद चल रहा है। इस बाबत मंडोर थाने में मामला दर्ज कराया गया।

थाना अधिकारी ने अपने स्तर से इस मामले को सुलझाने की कोशिश की, लेकिन जब इसका कोई समाधान नहीं निकला तो यह मामला कोर्ट पहुंचा। इस मामले में एक पक्ष का दावा है कि गाय अपनी ही दूध पीती है। इसकी पुष्टि के लिए गोशाला में सीसीटीवी कैमरा लगाया गया, लेकिन इससे से भी इस मामले का समाधान नहीं निकला।

Share To:

Post A Comment: