जबलपुर, 14 जून, 2019
      कलेक्टर श्री भरत यादव ने शासन की विभिन्न स्वरोजगार ऋण योजनाओं में कृषि उत्पादों के प्रसंस्करण, उद्यानिकी, मछली पालन, पशुपालन एवं डेयरी उत्पादों से जुड़ी गतिविधियों के प्रकरणों को प्राथमिकता देने तथा बैंकों को स्वीकृति हेतु अग्रेषित करने के निर्देश स्वरोजगार योजनाओं से जुड़े विभागों के अधिकारियों को दिये हैं श्री यादव ने बैंकर्स से भी कहा है कि वे परंपरागत व्यवसाय की अपेक्षा ऐसी गतिविधियों से जुड़े प्रकरणों को ऋण स्वीकृत करने एवं वितरण करने को प्राथमिकता दें, जो बाजार की वर्तमान आवश्यकता के अनुकूल हो
      श्री यादव आज कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में आयोजित जिला साख समन्वय समिति की बैठक को संबोधित कर रहे थे बैठक में जिला पंचायत की सीईओ रजनी सिंह, रिजर्व बैंक के प्रतिनिधि डॉ. चक्रपाल, लीड बैंक प्रबंधक एस.के. सिन्हा, नाबार्ड के प्रबंधक संदीप धारकर, जिला उद्योग केन्द्र के प्रबंधक तथा अन्य संबंधित विभागों के अधिकारी मौजूद थे
      कलेक्टर ने बैठक में सभी स्वरोजगार ऋण योजनाओं के तहत पिछले वर्ष की उपलब्धियों तथा चालू वित्तीय वर्ष में जिले को मिले लक्ष्य की जानकारी अधिकारियों से प्राप्त की   उन्होंने स्वरोजगार ऋण योजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़े अधिकारियों से कहा कि वे इन योजनाओं खासतौर पर मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के तहत टास्क फोर्स समिति के जरिये से ऐसी गतिविधियों से संबंधित प्रकरण ही बैंकों को भेजें जिनमें हितग्राही के साथ-साथ आठ-दस अन्य लोगों को भी रोजगार मिलने की संभावना हो
      कलेक्टर ने बैंकर्स से भी परंपरागत व्यवसाय की अपेक्षा ज्यादा संभावनाओं वाले क्षेत्रों के प्रकरणों को ऋण स्वीकृत करने में प्राथमिकता देने का आग्रह किया उन्होंने कहा कि स्वरोजगार ऋण योजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़े अधिकारियों और बैंकर्स को इस ओर भी ध्यान देना होगा कि एक ही परिवार या एक ही घर के सदस्य को बार-बार इन योजनाओं का लाभ मिले बल्कि सभी की कोशिश नये युवा उद्यमियों को प्रोत्साहित करने की होनी चाहिए
      श्री यादव ने बैठक में पिछले वर्षों के दौरान बैंकों को भेजे गये और स्वीकृति के लंबित प्रकरणों की छानबीन करने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये ताकि बैंकों से अनावश्यक बोझ को कम किया जा सके उन्होंने मुख्यमंत्री युवा उद्यमी योजना के तहत पिछले तीन वर्षों के लाभान्वित युवाओं की कार्यशाला बुलाने तथा इस कार्यशाला में स्वरोजगार स्थापित करने के इच्छुक युवाओं को भी आमंत्रित करने का सुझाव दिया ताकि पूर्व में इस योजना का लाभ ले चुके उद्यमियों के अनुभवों का लाभ स्वरोजगार स्थापना की चाह रखने वाले युवाओं को मिल सके और वे इनसे प्रेरणा ले सकें
      कलेक्टर ने इस अवसर पर स्वरोजगार योजनाओं के तहत चालू वित्तीय वर्ष के लिए मिले लक्ष्य से डेढ़ गुना प्रकरण बैंकों को स्वीकृति हेतु अग्रेषित करने के निर्देश अधिकारियों को दिये   उन्होंने इन योजनाओं का शिविर लगाकर ग्रामीण क्षेत्रों में भी व्यापक प्रचार-प्रसार करने पर बल दिया श्री यादव ने कहा कि स्वरोजगार ऋण योजनाओं के लक्ष्य का वितरण इस तरह हो कि सभी क्षेत्रों और सभी वर्गों के युवाओं को इनका लाभ उठाने का समान अवसर मिले श्री यादव ने दिव्यांगों और महिलाओं के ऋण प्रकरणों पर भी प्राथमिकता से विचार करने की आवश्यकता बताई   उन्होंने स्वरोजगार ऋण योजनाओं में रूरल सेल्फ एम्पलायमेंट ट्रेनिंग इंस्टीट्यूट से प्रशिक्षण प्रापत युवाओं के प्रकरणों को भी प्राथमिकता देने की बात कही   श्री यादव ने स्वरोजगार ऋण योजनाओं के तहत पिछले वर्ष बैंकों को भेजे गये प्रकरणों में लक्ष्य के अनुरूप हितग्राहियों को ऋण वितरण हो गया है या नहीं यह सुनिश्चित करने के निर्देश भी इन योजनाओं के क्रियान्वयन से जुड़े अधिकारियों को बैठक में दिये
क्रमांक/684/जून-152/जैन

Share To:

Post A Comment: