रायसेन ,दैनिक खबर अंचल ।विधानसभा चुनाव में दिग्विजय सिंह की जीत को लेकर किए गए मिर्ची यज्ञ के बाद वैराग्य नंद उर्फ मिर्ची बाबा ने बयान दिया था कि अगर भोपाल से कांग्रेस प्रत्याशी एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह विजयी नही होते तो वह हवन कुंड में ही समाधि ले लें गे। इसी बयान के बाद बाबा विवादों में फंस गए और मीडिया से मुह छिपाते बाख रहे थे । रिजल्ट आए और भोपाल से बीजेपी प्रत्याशी प्रज्ञा सिंह विजयी हुईं। जिसके बाद  वैराग्य नंद उर्फ मिर्ची बाबा विवादों में घिर गए। मीडिया से ओझल हुए बाबा मीडिया में सुर्खियां बन गए।  मीडिया बाबा को तलाशने लगी लेकिन बाबा का कहीं पता नहीं चल रहा था । अचानक मिर्ची बाबा रविवार को भोपाल एयरपोर्ट पर पहुंचे ।जंहा उन्होंने मीडिया से रूबरू होकर कहा कि वह अपने किए गए संकल्प पर आज भी अडीग हैं , और जिला प्रशासन भोपाल कलेक्टर श्री पिथोड़े से वह जल समाधि की अनुमति मांगने पहुचे। सूत्र बताते है कि बाबा को अनुमति नही मिली है। वही बाबा का कहना है कि यदि अनुमति नहीं दी गई। तब भी वे जल समाधि अवश्य लेंगे। अब देखना यह होगा कि क्या जिला प्रशासन बाबा के संकल्प को डिगा पाती है या नहीं । वैसे जिला पुलिस बल और जिला प्रशासन ने बाबा की हिफाजत के लिए पुख्ता इंतजाम किये है।  रविवार की दोपहर 1:00 बजे मिनाल रेसीडेंसी के पास अवध पैलेस में बाबा विश्राम करने पहुंचे।  इस दौरान भारी पुलिस बल तैनात किया गया। ऐसा बताया जा रहा है कि वैराग्यनंद कुछ समय के बाद विश्व प्रसिद्ध है भगवान भोले शंकर भोजपुर धाम दर्शन करने पहुंचेंगे। उसके बाद वह अपने संकल्प के मुताबिक जल समाधि लेंगे।
Share To:

Post A Comment: