शिवा फार्चुन सिटी में ट्रांसपोर्ट कारोबारी के यहां हुई साढ़े 11 लाख रूपए की लूट से पुलिस ने उठाया पर्दा

पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार ने पत्रकारवार्ता में किया खुलासा

नौकर सहित पांच गिरफ्तार

Kkkन्यूज कटनी- माधवनगर थाना क्षेत्र की झिंझरी पुलिस चौकी के अंतर्गत महावीर कॉलोनी स्थिति शिवा फार्चुन सिटी निवासी ट्रांसपोर्ट कारोबारी व उसके साथी को घर में बंधक बनाकर की गई साढ़े ग्यारह लाख रूपए की लूट का आज पुलिस ने पर्दाफाश कर दिया। लूट की योजना ट्रांसपोर्ट कारोबारी के नौकर ने ही अपने साथियों के साथ मिलकर रची थी और योजना के अनुसार ही उसे अंजाम तक पहुंचाया। पुलिस ने संदेह के आधार पर ट्रांसपोर्ट कारोबारी के नौकर को हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू की तो पहले वह गोलमोल जबाब देकर पुलिस को गुमराह करता रहा लेकिन जब उससे कड़ाई से पूछताछ की गई तो उसने अपने साथियों की मदद से लूट की वारदात को अंजाम देना स्वीकार कर लिया। वारदात से पर्दा उठाने पुलिस नियंत्रण कक्ष में आयोजित पत्रकारवार्ता में पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार ने बताया कि मूलत: राजस्थान के जोधपुर जिले के निवासी प्रेमराज पिता मुकनाराम विश्वनोई बीती 13 जून की देरशाम साढ़े आठ बजे अपने कुक दिनेश पटेल के साथ अपने निवास स्थान शिवा फार्चुन सिटी के फ्लैट नंबर 504 में पहुंचे थे। इसी दौरान फ्लैट में करीब चार अज्ञात युवक जो हथियार लिए हुए थे वो भी अंदर आ गए। डरा धमका कर प्रेमराज और दिनेश पटैल के हाथ पैर रस्सी से बांध दिए। प्रेमराज के कारोबार से संबंधित रखे करीब साढ़े 11 लाख रुपए लूट लिए और फिर फरार हो गए। सूचना के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे थे। जहां पर मौका मुआएना के बाद अज्ञात आरोपियों के खिलाफ  मामला दर्ज कर किया और उनका सुराग लगाते हुए गिरफ्तारी के प्रयास शुरू किए। यहां यह भी उल्लेखनीय है कि जिले की कमान संभालने के बाद घटित हुई लूट की इस वारदात को नवागत पुलिस कप्तान ललित शाक्यवार ने एक चुनौती के रूप में लिया था तथा वारदात को सुलझाने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संदीप मिश्रा के नेतृत्व में एक पुलिस टीम का गठन किया था। जिसमें प्रभारी नगर पुलिस अधीक्षक हरिओम शर्मा(एसडीओपी विजयराघवगढ़), कोतवाली प्रभारी शैलेष मिश्रा, माधवनगर थाना प्रभारी संजय दुबे, कुठला थाना प्रभारी विपिन सिंह, एनकेजे थाना प्रभारी रोहित डोंगरे व झिंझरी पुलिस चौकी प्रभारी प्रीती पांडे सहित कई प्रधान आरक्षक व आरक्षक शामिल हैं।
नौकर ने गुमराह करने के बाद उगला सच
पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार ने बताया कि लूट की इस वारदात में पुलिस को ट्रांसपोर्ट कारोबारी प्रेमराज के यहां कुक का काम करने वाले रीठी थाना क्षेत्र के ग्राम मढिया सैदा निवासी नौकर दिनेश पटेल की भूमिका संदिग्ध लग रही थी। पुलिस ने नौकर दिनेश से कई बार पूछताछ की लेकिन वो गोलमोल जबाब देकर पुलिस को गुमराह करता रहा। जिसके बाद एक दिन पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार खुद माधवनगर थाने पहुंचे और नौकर दिनेश से कड़ाई से पूछताछ की तो लूट के इस मामले की परते खुलने लगी। पुलिस की पूछताछ में दिनेश पटेल ने बताया कि लूट की इस वारदात में उसके गांव के ही 27 वर्षीय रज्जन उर्फ राजेश उर्फ राहुल पिता हल्ली प्रसाद पटेल व 19 वर्षीय संतोष पिता सुखदेव पटेल शामिल हैं। दिनेश ने बताया कि राहुल व संतोष कुछ वर्ष पूर्व महाराष्ट्र के पूना शहर में एक साथ काम करते थे। वहीं से उनकी अच्छी जान पहचान हो गई। फिर तीनों अलग-अलग हो गए लेकिन लगभग डेढ़ माह पूर्व तीनों मिथलेश पटेल की शादी में मिले। जहां दिनेश ने अपने साथियों से बताया कि वो जिस फर्म में काम करता है। उसके मैनेजर के पास बहुत पैसा रहता है। साथियों से मिलने के बाद ही दिनेश पटेल ने लूट की योजना बनाई और उसे अंजाम तक पहुंचाया।
6 लाख 80 हजार रूपए बरामद
एसपी श्री शाक्यावार ने बताया कि वारदात में शामिल सभी आरोपियों को गिरफ्तार कर उनके पास से साढ़े ग्यारह लाख रूपए में से 6 लाख 80 हजार रूपए व वारदात में प्रयुक्त सामान बरामद कर लिया है। जिसमें राहुल उर्फ राजेश के पास से एक लाख रूपए व ट्रांसपोर्ट कारोबारी का लूटा हुआ मोबाइल व वारदात में प्रयुक्त मोटर सायकल, संतोष पटेल व मिथलेश शुक्ला के पास से डेढ़-डेढ़ लाख रूपए नगद व स्प्रे, आरोपी भूरा उर्फ शेष कुमार पटेल के पास से डेढ़ लाख व कागजात व कुक दिनेश पटेल के पास से 1 लाख 30 हजार रूपए बरामद कर लिए गए हैं। 
पुरूस्कृत होगी पुलिस टीम
पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार ने वारदात का पर्दाफाश करने वाली पुलिस टीम को पुरूस्कृत करने की घोषणा भी की है। पुलिस टीम में पुलिस अधिकारियों के अलावा उपनिरीक्षक  बुंदेलधर द्विवेदी, सी.के.तिवारी, प्रियंका राजपूत, सहायक उपनिरीक्षक दुर्गेश तिवारी, प्रधान आरक्षक विजेन्द्र तिवारी, मनोज कुडापे, तीरथ टेकाम, आरक्षक ललित मिश्रा, आदर्श बघेल, अनिल सिंह सेंगर, रामेश्वर सिंह, वीरेन्द्र सिंह, लालजी यादव, कमलकांत यादव, पिंटू कुमार, छोटेलाल, अजय साकेत, शाहिद खान, अविनाश चौहान, वीरेन्द्र चढार व आकाश सिंह शामिल हैं।
Share To:

Post A Comment: