KKK न्यूज रिपोर्टर
         नैनी
    सुभाष चंद्र

प्रयागराज संगम स्थित  किला से पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं इससे सरकार का खजाना भी भरेगा भारत के इस सबसे बड़े किले को और शानदार बनाकर इसे पर्यटकों ट्रेन आकर्षण का केंद्र बनाया जा सकता है किला के अंदर पर्यटकों के लिए मेला प्राधिकरण पर्यटन विभाग और पूरातत्व विभाग विकास कार्य कराएगा शीघ्र ही केंद्र और प्रदेश सरकार जिला के सौंदर्य  करण को लेकर कदम उठाएगी जिस तरह के मध्य प्रदेश और राजस्थान के किलो से सरकार की आज तेजी से बढ़ी है उसी तरह हम उत्तर प्रदेश सरकार भी अकबर के किले से आय बढ़ाने की तैयारी है किला स्थित आयुध भंडार(आर्डिनेंस डिपो) को केंद्रीय आयुध भंडार सीओडी छेंवकी ले जाने की तैयारी तेज हो गई है सीओडी  में इसके लिए अलग से भवन समेत बड़े गोदामों का भी निर्माण हो गया है ओडी फोर्ट में सेना के सभी सामान रखे जाते हैं गोला बारूद से लेकर कपड़े वाहन आज के रखने की व्यवस्था है जिला का 10 फीसद उत्साह श्रद्धालुओं के लिए खोला गया है मूल अक्षय वट पातालपुरी सरस्वती कूप में दर्शन पूजन के लिए श्रद्धालुओं को किला में प्रवेश दिया जाता है मूल अक्षय वट के दर्शन के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कुंभ के पहले घोषणा की थी जिसके बाद भारी भीड़ उमड़ी लगभग एक करोड़ श्रद्धालु अब तक अक्षय वट का दर्शन कर चुके हैं अक्षय वट दर्शन के लिए प्रदेश सरकार ने लगभग तीन करोड़ रुपए से विकास कार्य कराए थे अब किला धार्मिक स्थल के साथ पर्यटन स्थल के रूप में भी विकसित किया जाएगा अकबर के ऐतिहासिक किले को पर्यटन के  लिहाज से विकसित करने के लिए बड़ा प्रोजेक्ट तैयार किया जाएगा जल्द ही इसके लिए केंद्र सरकार और प्रदेश सरकार  बड़ा फैसला करेगी दरअसल कुंभ के दौरान प्रदेश सरकार की जब कैबिनेट बैठक हुई थी तब किला को खाली कराकर मेला प्राधिकरण को सौपे जाने के प्रस्ताव पर चर्चा हुई थी जिसके बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र भेजा था जिसमें आग्रह किया गया था कि किला के अंदर कई अन्य देवी देवताओं की मंदिर हैं जिस के सौंदर्यीकरण के बाद दर्शन के लिए खोला जा सकता है इसके अलावा किला के अंदर पर्यटन की अपार संभावनाएं हैं यहां देश और विदेश के पर्यटक किला को देखने आएंगे अकबर का किला देश का सबसे बड़ा किला है इस किले के निर्माण में लगभग 45 वर्ष लगे थे इसकी नींव  वर्ष 1583 में रखी गई थी तब इसके निर्माण में 20,000 से ज्यादा श्रमिक लगाए गए थे उस जमाने में इसके निर्माण में छह करोड़ 17लाख 20हजार  रुपए खर्च हुए थे जोधा बाई महल रंगशाला अकबर की टोपें अशोक स्तंभ जोधा घाट सलीम के पत्थरों के सिहासन को पर्यटक करीब से देख सकेंगे।

डेढ हजार का है स्टॉफ
ओडी फोर्ट मैं वर्तमान में लगभग डेढ़ हजार का स्टाफ है इसमें 5 साल के करीब आर्मी के जवान व अफसर हैं जबकि 1000 सिविलियन है किला में सैन्य अफसरों के लिए आवासीय परिसर भी है सीओडी में भी आवासीय परिसर है।

रक्षा मंत्री रक्षा सचिव जी आए
इसके लिए कुंभ के पहले रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी किला में आ चुकी हैं उन्होंने प्रशासन पुलिस के साथ ही सैन्य अफसरों के साथ महत्वपूर्ण बैठक की थी उनके बाद रक्षा सचिव भारत सरकार भी आए थे और उन्होंने भी ओडी को सीओडी में शिफ्ट करने की तैयारियों की समीक्षा की थी।



Share To:

Post A Comment: