सरपट दौड़ते यमदूतों का ग्रास बन रहे निरीह जीव

कभी भी हो सकती है बड़ी घटना 

Kkkन्यूज कटनी/सिलौंड़ी:- बदलते दौर में पैसे कमाने की ऐसी होड़ मची हुई है कि लोगों को निरीह जीवों तक की फिक्र नहीं है इस तरह के ढेरों मामले देखने मिल रहे हैं। ऐसा ही है सिलौंडी-सिहोरा मार्ग जिस में आए दिन निरीह जीव काल का ग्रास बनते हैं।इस मार्ग में सरपट दौड़ते भारी भरकम हाईवा,अवैध रेत खनन-परिवहन कर रहे ट्रैक्टर व कम समय में अधिक दूरी तय करने की मंशा रखने वाले कतिपय तत्वों के वाहन आए दिन इस तरह की वारदातों को अंजाम दे रहे जबकि प्रशासन हाथ पर हाथ रखे बैठा हुआ है।इसी तरह एक बार फिर एक बैल इन यमदूतों की चपेट में आया और सिलौंडी के बरिया तिराहे के पास काल के गाल में समा गया। इंदिरा कॉलोनी निवासी संदीप साहू ने बताया कि रात में अज्ञात वाहन से उक्त बैल को रौंद दिया और उसकी मौत हो गई।हालांकि संदीप ने बताया कि उसने ग्राम सरपंच एवं सचिव से इसे हटाए जाने की मांग की है ताकि आवागमन पूर्ववत हो जाए लेकिन सरपंच ने सचिव से बात करने को और सचिव ने सरपंच से बात करने कहकर बात टाल दी। ज्ञात हो कि इसी मार्ग के किनारे सिलौंड़ी उपथाना भी है लेकिन सामने से सरपट दौड़ते वाहनों पर कोई शिकंजा नहीं।आलम यह है कि 50 से 55 टन तक अत्यधिक भार लेकर सैकड़ों हाईवा और रेत से लदे तूफानी गति से चलते ट्रैक्टर दिन रात देखे जाते हैं। रात में स्थिति तो और भयावह हो जाती है यदि कोई व्यक्ति सामने आ जाए तो उसका बचना लगभग नामुमकिन होता है लेकिन बावजूद इसके पुलिस गहन निद्रा में है।जनहानि से भी सबक नहीं ले रहा प्रशासन

समय-समय पर इस मार्ग पर हो रही जनहानि से भी प्रशासन सबक लेता दिखाई नहीं देता। ऐसा नहीं है कि इस मार्ग पर केवल निरीह पशु ही काल का ग्रास बन रहे हैं। कई घटनाओं में जनहानि हुई है लेकिन बावजूद इसके प्रशासन इन घटनाओं से सबक नहीं ले रहा जो कि चिंतनीय विषय है।
Share To:

Post A Comment: