KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
         प्रयागराज
  विकास कुमार पटेल

उद्यमियों ने मण्डलीय समीक्षा बैठक में  मंत्री के उपस्थित होने पर जतायी प्रसन्नता, दिया धन्यवाद

मंत्री ने उद्यमियों की समस्याओं एवं सुझावों को सुना तथा सम्बन्धित प्राथमिकता पर निस्तरित करने के लिए किया निर्देशित

सरकार उद्यमियों के एक साथ जुड़कर औद्योगिक विकास  करेंगे।

उद्यमियों से जुडे कार्यों को प्राथमिकता के आधार पर करें अधिकारी- मा. औद्योगिक विकास मंत्री श्री सतीश महाना

उद्योग विभाग के अधिकारियों को उद्योग विभाग से संचालित हो रही योजनाओं की पूरी जानकारी हो - मा. औद्योगिक विकास मंत्री, उत्तर प्रदेश।

कार्य समय से पूरा किया जाय तथा कार्य मे रूचि न लेने  वाले अधिकारी या कर्मचारी घर मे बैठे  श्री सतीश महाना, औद्योगिक विकास मंत्री।

जो काम करते है वे सौभाग्यशाली होते है, अपनी जिम्मेदारियों को समझे अधिकारी - श्री सतीश महाना, औद्योगिक विकास मंत्री।

मा. मंत्री, औद्योगिक विकास, खादी एवं ग्रामोद्योग, रेशम उद्योग, हथकरघा एवं वस्त्रोद्योग,  सूक्ष्म लघु एवं मध्यम उद्योग एवं निर्यात प्रोत्साहन विभाग, उ.प्र. श्री सतीश महाना जी ने आज प्रयागराज में प्रथम बार मण्डलीय उद्योग बन्धु की बैठक की अध्यक्षता की। बैठक में उपस्थति उद्यमियों ने मा. मंत्री की उपस्थिति पर हर्ष व्यक्त किया तथा उनके बैठक मे आने के लिए उन्हें धन्यवाद भी दिया। बैठक में मा. मंत्री जी के साथ विधायक श्री हर्षवर्धन वाजपेयी एवं श्रीमती नीलम करवरिया, प्रमुख सचिव, अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास विभाग, उ.प्र सरकार श्री राजेश कुमार सिंह, विशेष सचिव अवस्थापना एवं औद्योगिक विकास विभाग, संयुक्त अधिशाषी निदेशक, उद्योग बन्धु उ.प्र सरकार श्री राकेश वर्मा, यूपीएसआईडी के प्रबन्ध निदेशक श्री संजय प्रसाद, प्रभारी मण्डलायुक्त जिलाधिकारी प्रयागराज श्री भानुचन्द्र गोस्वामी के साथ जिलाधिकारी फतेहपुर एवं कौशाम्बी सहित मण्डलीय अधिकारीगण तथा उद्योग बन्धु उपस्थित थे। 
मा. मंत्री जी ने सर्वप्रथम उपस्थित उद्योग बन्धुओं से उनकी समस्याओं को जाना तथा उनसे उद्योगों के विकास के बारे में सुझाव भी लिये। उद्यमियों ने मा. मंत्री जी अपनी समस्याओं के बारे में विस्तार से बताया तथा प्रयागराज में उद्योगों के विकास के लिए महत्वपूर्ण  सुझाव भी दिये। जिसमें मुख्य रूप में बन्द पड़े उद्योगों पुर्नस्थापित करने तथा नये उद्योगों को प्रयागराज में आमंत्रित कर उन्हें यहां पर अपने संस्थान खोलने के लिए अनुरोध करना। मा. मंत्री जी ने उद्यमियों को विश्वास दिलाया कि सरकार निरन्तर उद्यमियों के हितों के प्रति संवेदनशील है । उन्होंने कहा कि उद्योगो के लिए मूलभूत सुविधायें सरकार द्वारा मुहैया करायी जा रही है। उन्होंने उद्यमियों का आवाहन किया और कहा कि वे सरकार के साथ मिलकर औद्योगिक विकास में सहभागी बने। उन्होंने उद्यमियों से कहा कि उद्योगो के विकास के लिए उनके पास जो भी सुझाव है वे सरकार तक पहुंचाये। उनके सुझावों पर विचार-विमर्श औद्योगिक विकास को और गति प्रदान की जायेगी। उन्होंने उद्यमियों से कहा कि उद्योग से सम्बन्धित योजनाओं के बारे में पूरी जानकारी रखे, जिससे किसी प्रकार की असुविधा न हो। 
मा. मंत्री ने उद्योग विभाग के अधिकारियों को  निर्देशित किया कि सरकार द्वारा संचालित की जा रही उद्योगों से जुड़ी जनकल्याणकारी योजनाओं की पूरी जानकारी रखें, जिससे उनके पटल पर आने वाले उद्यमियों को सही मार्ग दर्शन मिल सके। उन्होंने कहा कि उद्यमियों से सम्बन्धित कार्य प्राथमिकता के आधार पर किये जाये। उन्होंने अधिकारियों एवं कर्मचारियों को सचेत करते हुए कहा कि दिये गये दायित्वों का निर्वाहन पूरी कर्तव्य निष्ठा एवं लगन के साथ किया जाय। उन्होंने कहा कि जब मा. प्रधानमंत्री एवं मा. मुख्यमंत्री दिन रात काम करते है तो निचले अधिकारी एवं कर्मचारी भी उसी तर्ज पर काम करे। उन्होंने कहा कि जो अधिकारी एवं कर्मचारी कार्यों मे रूचि नही ले रहे है, वे घर मे जाकर बैठे उनका यहां पर कोई काम नही है। उन्होंने सीधे तौर पर कहा कि कार्यों को समयबद्ध रूप से सम्पादित करना है, इसमें किसी प्रकार की कोई ढिलाई क्षम्य नही होगी। 
बैठक में उद्योग बन्धु के निवेश मित्र पोर्टल का प्रेजेटेशन दिया गया तथा निवेश मित्र पर आधारित एक फिल्म भी दिखायी गयी। बैठक में निवेश मित्र पोर्टल के उत्तर प्रदेश में व्यापार को आसान बनाने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार के एक डेडीकेट सिंगल विंडो पोर्टल  निवेश मित्र की शुरुआत की गई है,  उद्यमी आधिकारिक पोर्टल .पर लागिंन या रजिस्ट्रेशन कर सकते हैं। यह ऑनलाइन आवेदन, समेकित शुल्क भुगतान और स्थिति की निगरानी के लिए वन स्टाफ सोल्यूशन है । यूपी निवेश मित्र सिंगल विंडो पोर्टल पर, 20 विभाग की लगभग 70 सेवाएं ऑनलाइन उपलब्ध हैं। इसके अलावा, इस ऑनलाइन  र्टल में आवश्यक प्रमाणपत्रों की सूची, अनापत्ति प्रमाणपत्र (एनओसी) और लाइसेंस शामिल हैं। प्रमाण पत्र एनओसी  लाइसेंस का ऑनलाइन तृतीय पक्ष सत्यापन भी ऑनलाइन उपलब्ध है।सबसे महत्वपूर्ण विशेषता अंतिम अनुमोदित और डिजिटल हस्ताक्षरित प्रमाणपत्र  लाइसेंस डाउनलोड करने का प्रावधान है।
प्रभारी मण्डलायुक्त /जिलाधिकारी प्रयागराज श्री भानुचन्द्र गोस्वामी ने प्रयागराज मण्डल में उद्योगो बन्धु की बैठकों का विवरण प्रस्तुत किया। उन्होंने जनपद वार उद्योगो से सम्बन्धित समस्याओं के समाधान की रिर्पोट भी प्रस्तुत की, जिसमें उन्होंने मा. मंत्री जी को बताया कि प्रयागराज में 17 प्रकरण थे, जिसे निस्तारित कर दिया गया है , जनपद फतेहपुर में 05 प्रकरण थे, जिसमें से 04 प्रकरण को निस्तारित कर दिया गया है, जनपद प्रतापगढ़ में 08 प्रकरण थे जिसमें से 07 प्रकरण को निस्तारित कर दिया गया है इसी तरह जनपद कौशाम्बी में 01 प्रकरण था जिसे निस्तारित कर दिया गया है। प्रभारी मण्डलायुक्त जिलाधिकारी प्रयागराज ने बैठक के अन्त में मा. मंत्री ने मोमेंटो प्रतीक चिन्ह भेंट किया।


Share To:

Post A Comment: