अवैध रेत के उत्खनन, परिवहन के खिलाफ संयुक्त दलों की कार्यवाही जारी

kkkन्यूज कटनी- कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने जिले में रेत और खनिज के अवैध खनन,परिवहन व भण्डारण पर सख्त कार्यवाही कर रोकथाम के लिये प्रभावी कार्यवाही सुनिश्चित करने तहसीलवार राजस्व, पुलिस और खनिज विभगा के अधिकारियों के संयुक्त दल गठित किये हैं। विगत दो दिनों की छापामार कार्यवाही में जिले में अवैध रेत उत्खनन, परिवहन एवं भण्डारण की रोकथाम के असरदार परिणाम दिखने लगे हैं।कलेक्टर द्वारा गठित दल द्वारा विजयराघवगढ़ तहसील अन्तर्गत ग्राम रजरवारा, घुघरी, बरुआ एवं घुन्नौर में औचक निरीक्षण कर कार्यवाही की गई। जिसमें ग्राम रजरवारा क्रमांक 1 में महानदी घाट क्षेत्र में खनिज रेत के अवैध खनन के संदर्भ में जांच की गई। जांच किये जाने पर खनिज रेत मात्रा लगभग 19344 घनमीटर रेत का खनन किया जाना पाया गया है। जिससे खनिज रेत के अवैध खनन का प्रकरण दर्ज कर राशि 11 करोड़ 60 लाख 64 हजार खनिज नियम अंतर्गत शास्ति अधिरोपित किये जाने की कार्यवाही की जा रही है एवं इतनी ही राशि पर्यावरण क्षतिपूर्ति के लिये अधिरोपित की जा रही है। कुल राशि 23 करोड़ 21 लाख 28 हजार अधिरोपित की जाने की कार्यवाही की जा रही है।जिला खनि अधिकारी संतोष सिंह ने बताया कि शनिवार को ही दल द्वारा ग्राम घुघरी में फेयर एण्ड ब्लैक द्वारा संचालित खनिज रेत के उत्खनिपट्टा क्षेत्र का मौका निरीक्षण किया गया। मौके पर उत्खनिपट्टा क्षेत्र से लगे अस्वीकृत क्षेत्र खसरा क्रमांक 490 ग्राम घुघरी महानदी घाट क्षेत्र में भी कंपनी द्वारा खनिज रेत का अवैध खनन किया जाना पाया गया है। अवैध खनन किये गये क्षेत्र की पैमाईश की गई है, जिसमें खनिज रेत मात्रा 5733 घनमीटर का अवैध खनन किया जाना पाया गया है। जिससे 3 करोड़ 43 लाख 98 हजार रुपये शास्ति एवं इतनी ही राशि पर्यावरणीय क्षतिपूर्ति के लिये अधिरोपित किये जाने की कार्यवाही की जा रही है। कुल राशि 6 करोड़ 87 लाख 96 हजार अधिरोपित किये जाने की अनुशंसा की गई है।दल द्वारा ग्राम बरुआ में भी दबिश दी गई एवं महानदी क्षेत्र एवं लगे हुये क्षेत्र का निरीक्षण किया गया। ग्राम में विभिन्न भूमि स्वामियों की भूमि पर खनिज रेत लगभग 355 ट्राली मात्रा 1065 घनमीटर का अवैध भण्डारण किये जाने से खनिज रेत जप्त कर ग्राम सचिव की सुपुर्दगी में दी गई है। उपस्थित ग्राम सचिव एवं ग्रामवासियों द्वारा खनिज रेत का अवैध भण्डारण किया गया है अवैध भण्डारण किया जाना पाये जाने पर विभिन्न भू-स्वामियों पर रॉयल्टी राशि की 60 गुना राशि 63 लाख 90 हजार अधिरोपित करने के लिये कार्यवाही की जा रही है। इतनी ही राशि पर्यावरण क्षतिपूर्ति के संबंध में अधिरोपित की जायेगी। जिसमें कुल राशि 1 करोड़ 27 लाख 80 हजार की राशि अधिरोपित किये जाने की अनुशंसा की गई है।ग्राम घुन्नौर में भी दल द्वारा दबिश दी गई। ग्राम घुन्नौर में फेयर एण्ड ब्लैक द्वारा रेत खदान संचालित है। निरीक्षण के दौरान रेत खदान में काम बंद पाया गया। पूर्व में उक्त खदान संचालक द्वारा खनिज रेत का अवैध उत्खनन किये जाने से लगभग 15 करोड़ रुपये राशि की शास्ति अधिरोपित की गई है एवं इतनी ही राशि पर्यावरण क्षतिपूर्ति के लिये अधिरोपित की गई है। इसमें कुल राशि लगभग 30 करोड़ रुपये अधिरोपित की गई है। उपस्थित ग्रामीणों द्वारा बताया गया कि फेयर एण्ड ब्लैक कंपनी द्वारा ही खसरा क्रमांक 490 में खनन कर रेत निकाली गई है।




Share To:

Post A Comment: