कटनी- कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने राज्य शासन के निर्देशानुसार सभी अस्पतालों में प्रतिदिन ओपीडी प्रातः 9 बजे से शाम 4 बजे तक संचालित रखने और इस अवधि में चिकित्सक और पैरामेडिकल स्टाफ की अनिवार्य उपस्थिति के निर्णय का सख्ती से पालन करने के निर्देश दिये हैं। कलेक्टर श्री सिंह के निर्देशन में एसडीएम कटनी बलबीर रमन ने मंगलवार को प्रातः 9.30 बजे जिला अस्पताल का औचक निरीक्षण कर अस्पतालों में चिकित्सकों की उपस्थिति का जायजा लिया।
 एसडीएम के निरीक्षण के दौरान 10 चिकित्सक एवं चिकित्सा विशेषज्ञ ओपीडी के समय अपने कर्तव्य पर अनुपस्थित पाये गये अथवा कुछ विलम्ब से उपस्थित हुये। इनमें डॉ0 सुनीता वर्मा, डॉ0आरती सोंधिया, डॉ0सीमा शिवहरे, डॉ0हर्षिता गुप्ता, डॉ0 देवेन्द्र सिंह पटेल, डॉ0 अभिषेक चौदहा, डॉ0 अमर सिंह अनुपस्थित रहे। डॉ0 सुनीता सिंह आकस्मिक अवकाश पर होने और डॉ0 आशीष पाण्डे नाईट ड्यूटी के कारण डॉ0 जय प्रकाश वर्मा की ड्यूटी दोपहर 2 बजे होने के कारण अनुपस्थित पाये गये। शेष सभी चिकित्सक ड्यूटी पर उपस्थित रहे। एसडीएम ने अपना निरीक्षण प्रतिवेदन कलेक्टर को प्रस्तुत कर दिया है।सिविल सर्जन सह मुख्य अस्पताल अधीक्षक डॉ0 एस0के0 शर्मा ने मंगलवार को निर्धारित समयावधि में निरीक्षण के दौरान कर्तव्य पर अनुपस्थित पाये गये 10 चिकित्सकों को कारण बताओ नोटिस जारी कर 24 घंटे के भीतर स्पष्टीकरण प्रस्तुत करने के निर्देश दिये हैं। सिविल सर्जन द्वारा जारी नोटिस में कहा गया है कि अपने कर्तव्य पर उपस्थित नहीं रहना अथवा विलम्ब से उपस्थित होनेा शासकीय कार्य में लापरवाही एवं निहित कर्तव्यों के पालन में घोर लापरवाही का द्योतक है। यह कृत्य सिविल सेवा आचरण नियम 1965 के विरुद्ध भी है। अतः 24 घंटे के भीतर अपना स्पष्टीकरण प्रस्तुत करें अथवा संबंधित के विरुद्ध अनुशासनात्मक कार्यवाही के लिये वरिष्ठ कार्यालय को अनुशंसा की जायेगी। जिन अनुपस्थित चिकित्सकों को नोटिस जारी की गई है, उनमें महिला मेडिकल ऑफीसर डॉ0 सुनीता वर्मा, डॉ0 भारती सोंधिया, डॉ0 हर्षिता गुप्ता, मेडिकल ऑफीसर डॉ0 देवेन्द्र पटेल, डॉ0 अभिषेक चौदहा, डॉ0 अमर सिंह, रेडियालॉजिस्ट डॉ0 आर0के0 आठ्या, शल्य रोग विशेषज्ञ डॉ0 आर0बी0 सिंह, एनेस्थीसिया विशेषज्ञ डॉ0 एस0के0 शुक्ला, डॉ0 मनोरमा गुप्ता के नाम शामिल हैं।



Share To:

Post A Comment: