Kkkन्यूज जबलपुर- आज दिनांक 24/06/19 को दोपहर 01.00 बजे पुलिस कन्ट्रोल रूम जबलपुर मे महिला अपराधो की विवेचना के संबंध मे आयोजित कार्यशाला का शुभारंभ पुलिस महानिरीक्षक  महिला अपराध  श्री आर.के.अरुसिया(भा.पु.से) द्वारा पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिह (भा.पु.से.) की उपस्थिति में किया गया । कार्यशाला मे जिले के समस्त राजपत्रित अधिकारी एवं समस्त थानो के प्रभारी उपस्थित थे कार्यशाला मे उपस्थित अधिकारियो को डी.पी.ओ.श्री शेख वसीम, ए.डी.पी.ओ. श्री देवर्षि पिंचा, श्री जयवीर यादव के व्दारा महिला संबंधी अपराधो की विवेचना किस प्रकार की जाये, विवेचना मे क्या कमिया रह जाती है जिससे की आरोपी को संदेह का लाभ मिलता है आदि के संबध मे विस्तार से जानकारी दी गई, साथ ही एफ.एस.एल. अधिकारी डॉ. ज्योति शांतिकर के व्दारा महिला संबंधी अपराधो एंव पाक्सो एक्ट के प्रकरणो मे साक्ष्य कैसे संकलित किया जाये के सबंध मे पावर प्वाइंट प्रोजेक्टर के माध्यम से जानकारी दी गई तथा कार्यशाला मे उपस्थित अधिकारियो के प्रश्नो का समाधान किया गया । कार्यशाला के दौरान ही पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिह (भा.पु.से.) के व्दारा कन्ट्रोल रूम से हरि झंडी दिखा कर दो रथ महिला संबधी अपराधो एवं नशा मुक्ति जागरूकता से सबंधित रवाना किये गये । पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिह ने कहा कि नशा निश्चित तौर पर युवा पीढी को खोखला कर रहा है तथा अपराध भी करा रहा है, इसको मद्देनजर रखते हुए 20 जून से 24 जून तक नशा मुक्ति अभियान प्रदेश स्तर पर चलाया जा रहा है, इसी कडी मे आज नशा मुक्ति जागरूकता हेतु एक रथ रवाना किया गया है, जो लगातार एक माह तक ऐसे क्षेत्र जहां नशाखोरी की ज्यादा शिकायते रहती है वहां भ्रमण कर लोगो को नशा के क्या दुष्परिणाम होते है कैसे जीवन के बरबाद करता है, शारिरीक रूप से खोखला करता है के सबंध मे जानकारी देगा, साथ ही सभी थाना प्रभारियो को थाना क्षेत्र के ऐसे क्षेत्र जहां पर ज्यादा शराबखोरी की शिकायते है संगोष्ठि आयोजित कर नशे के दुष्परिणामो से अवगत कराने हेतु निर्देशित किया गया है, इसके  साथ ही दुसरा रथ महिला सबंधी अपराधो मे जागरूकता हेतु रवाना किया गया है यह रथ भी लगातार एक माह तक चिन्हित किये गये ऐसे क्षेत्र जहां पर महिला सबंधी अपराध ज्यादा होते है चलेगा, साथ ही गर्ल्स स्कूल कॉलेज एवं कोचिंग संस्थानो को पास भी भ्रमण करते हुए महिला अपराधो के प्रति जागरूप करेगा, इसके साथ ही कोड रेड टीम को भी निर्देशित किया गया है कि गर्ल्स स्कूल कॉलेज तथा कोचिंग संस्थानो के आसपास उनके लगने एंव छूटने के समय भ्रमण करे ऐसे शौहदे जो चाय पान के ठेलो पर खडे रहते है उन्हे एक बार समझाइश दें ,यदि दुबारा मिलते है तो उनके विरूद्ध सबंधित थाने के व्दारा वैधानिक कार्यवाही कराई जाये ।
Share To:

Post A Comment: