महाराणा प्रताप जयंती के कार्यक्रम में शामिल हुईं, लेकिन कोर्ट नहीं पहुंचीं साध्वी प्रज्ञा

स्पेशल कोर्ट ने मालेगांव ब्लास्ट केस की आरोपी और भोपाल की सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को हफ्ते में एक बार पेश होने का आदेश दिया था। तीन जून को दिए गए कोर्ट के आदेश के मुताबिक, गुरुवार को प्रज्ञा सिंह ठाकुर को कोर्ट में पेश होना था लेकिन बीजेपी सांसद अदालत नहीं पहुंचीं। बुधवार को उनकी तबीयत खराब होने के कारण अस्पताल में भर्ती कराया गया था।

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, मालेगांव ब्लास्ट केस में आरोपी प्रज्ञा सिंह ठाकुर बुधवार रात कमर में तेज दर्द और हाई ब्लड प्रेशर की शिकायत के बाद एक निजी अस्पताल पहुंची थीं। गुरुवार को इलाज के बाद प्रज्ञा सिंह ठाकुर की अस्पताल से छुट्टी हो गई थी। प्रज्ञा सिंह ठाकुर को मुंबई की एक विशेष अदालत में गुरुवार को पेश होने का आदेश दिया गया था।

अस्पताल से निकलने के बाद बीजेपी सांसद एमपी नगर में महाराणा प्रताप जयंती के कार्यक्रम में भाग लेने पहुंची। उनकी करीबी उपमा ने बताया कि कार्यक्रम में शामिल होने के बाद वह दोबारा अस्पताल जाएंगी। इसके पहले, प्रज्ञा सिंह ठाकुर ने अपनी खराब तबीयत और संसद में औपचारिकताओं का हवाला देते हुए पेशी से छूट दिए जाने की अपील की थी जिसे कोर्ट ने खारिज कर दिया था। 17 मई को सुनवाई के दौरान स्पेशल कोर्ट ने कर्नल पुरोहित और बीजेपी नेता प्रज्ञा ठाकुर समेत मालेगांव ब्लास्ट के अन्य आरोपियों को हफ्ते में एक बार पेश होने का आदेश दिया था। 2008 के मालेगांव ब्लास्ट में 6 लोगों की मौत हुई थी।
Share To:

Post A Comment: