क्षेत्र भ्रमण कर मैदानी स्तर पर क्रियान्वयन भी देखें अधिकारी - कलेक्टर

जिलास्तरीय विभागों के अधिकारियों की बैठक

कटनी - कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने जिले के विभाग प्रमुख अधिकारियों को निर्देशित किया है कि सप्ताह के तीन दिवसों में कार्यालयीन कार्यों के साथ ही क्षेत्र भ्रमण कर मैदानी स्तर पर शासन की योजनाओं एवं कार्यक्रमों का क्रियान्वयन भी देखें। उन्होने कहा कि जिले में प्रत्येक विभाग को काम करने की बहुत सी संभावनायें हैं। अच्छी ऊर्जा के साथ परिणाम मूलक कार्य कर अपने दायित्वों का निर्वहन करें। शुक्रवार को कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सभी विभाग प्रमुख अधिकारियों की बैठक में कलेक्टर श्री सिंह ने विभागवार गतिविधियों, वार्षिक लक्ष्यों की पूर्ति, शासकीय योजनाओं व कार्यक्रमों की प्रगति और आगामी कार्ययोजना की समीक्षा की। इस मौके पर संयुक्त कलेक्टर सपना त्रिपाठी, अधीक्षण यंत्री विद्युत पी0के0 मिश्रा सहित विभाग प्रमुख अधिकारी उपस्थित रहे।
कलेक्टर श्री सिंह ने प्रत्येक जिला प्रमुख अधिकारी से परिचय प्राप्त कर विभागीय गतिविधियों एवं कार्यों की जानकारी ली। अधीक्षण यंत्री विद्युत पी0के0 मिश्रा ने बताया कि जिले में फीडर सेपरेशन, सौभाग्य योजना सहित सभी प्रोजेक्ट पूरे हो चुके हैं। वर्तमान में 5 करोड़ 80 लाख का नया प्रोजेक्ट संचालित है। जिले में कृषि फीडर में 10 घंटे और घरेलू फीडर में 24 घंटे अनवरत विद्युत आपूर्ति की जा रही है। किसी भी प्रकार की विद्युत कटौती नहीं की जा रही है। बिगड़े और खराब ट्रान्सफार्मर्स 24 घंटे की समय-सीमा में बदले जा रहे हैं। कलेक्टर श्री सिंह ने कहा कि मॉनसून पूर्व विद्युत लाईनों के रिपेयरिंग के कार्य और आवश्यक तैयारियां समय से पूर्ण कर लें। इसके अलावा यदि मेन्टिनेन्स या स्थानीय कारणों से विद्युत प्रवाह बाधित होता है, तो इसकी पूर्व सूचना क्षेत्रवासियों और मीडिया को भी दें।जिले में हाईस्कूल, हायर सेकेण्डरी रिजल्ट की जानकारी लेते हुये कलेक्टर ने कहा कि अगले वर्ष बाहरवीं बोर्ड का परीक्षा परिणाम 90 प्रतिशत और 10वीं बोर्ड का 80 प्रतिशत लाने के लक्ष्य को लेकर तैयारी करें और डाईट के निर्धारित शेड्यूल के अनुसार शिक्षकों का प्रशिक्षण भी करायें। स्वास्थ्य और महिला बाल विकास विभाग तथा पंचायत विभाग के अधिकारियों को 10 जून से प्रारंभ हो रहे दस्तक अभियान का क्रियान्वयन गंभीरता पूर्वक करने के निर्देश दिये गये। कलेक्टर ने जिले में टीकाकरण और परिवार कल्याण कार्यक्रमों की स्थिति में सुधार लाने के निर्देश दिये।स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा में कलेक्टर ने कहा कि जिले की सभी सीएचसी, पीएचसी और अस्पतालों में शासन द्वारा जारी निर्देशानुसार प्रातः 9 बजे से शाम 4 बजे तक की ओपीडी में डॉक्टर्स और चिकित्सीय स्टाफ की उपस्थिति का कड़ाई से पालन किया जाये। इसके अलावा मॉनसून के पूर्व नगरीय निकाय, लोकस्वास्थ्य, विद्युत मण्डल, पीएचई, लोक निर्माण विभाग और आपदा प्रबंधन होमगार्ड की जाने वाली आवश्यक तैयारियां समय पर पूर्ण कर लें। होमगार्ड और आपदा प्रबंधन विभाग प्रत्येक माह लोगों में जागरुकता के लिये राहत और बचाव संबंधी मॉकड्रिल भी कराये।कृषि विभाग की समीक्षा में खरीफ फसलों की तैयारियों की जानकारी लेते हुये कलेक्टर ने कहा कि कृषि और सहयोगी विभाग उद्यानिकी, मत्स्य पालन, पशुपालन मिलकर किसानों की आय दुगुनी करने का रोडमैप तैयार करें। पेयजल की स्थिति की समीक्षा में कलेक्टर ने कहा कि नगरीय और ग्रामीण क्षेत्रों में पेयजल की सतत् और सुनिश्चित उपलब्धता बनाये रखें।
अवैध रेत उत्खनन, परिवहन सख्ती से रोकें कलेक्टर शशिभूषण सिंह ने खनिज विभाग के अन्तर्गत अवैध रेत उत्खनन, परिवहन,भण्डारण पर सख्ती से रोक लगाने के निर्देश दिये हैं। उन्होने कहा है कि इस संबंध में शिकायत या सूचना प्राप्त होने पर राजस्व, पुलिस और खनिज विभाग के अधिकारी संयुक्त टीम के रुप में मैाके पर जाकर कार्यवाही सुनिश्चित करें आरटीओ को निर्देशित किया गया है कि बिना परमिट के कोई वाहन सड़क पर नहीं चलना चाहिये। स्कूल बसों की जांच करने के निर्देश भी दिये गये हैं।
परियोजनाओं के निर्माण कार्य समय सीमा में पूर्ण हों कलेक्टर श्री सिंह ने निर्माण विभागों के अन्तर्गत चल रही परियोजनाओं एवं योजनाओं के निर्माण कार्य को समय-सीमा में पूर्ण कराने के निर्देश भी अधिकारियों को दिये हैं। नगर निगम के अन्तर्गत शहर की यातायात व्यवस्था, पार्किंग, शहर से बाहर जाने के वैकल्पिक मार्गों एवं ट्रान्सपोर्ट नगर के शिफ्टिंग के संबंध में भी कलेक्टर ने अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश दिये।
Share To:

Post A Comment: