चित्रकूट- जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में जिला क्षय रोग फोरम की बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में सम्पन्न हुई।जिलाधिकारी ने जिला क्षय रोग अधिकारी को निर्देश दिये कि टी.बी.के बचाव व उसके निदान हेतु नागरिकों को जागरूक करने के लिए शिविरों का आयोजन तथा प्रचार-प्रसार के अंतर्गत समाचार पत्रों में विज्ञापन,वाल पेंटिंग,फोल्डर,बैनर,होल्डिंग आदि लगाकर प्रचार-प्रसार करायें। जिससे नागरिकों में क्षय रोग संबंधि्ित जानकारी हो और वह अस्पतालों में इलाज हेतु आने वाले व्यक्तियों के साथ सामान्य व्यक्ति की भांति उसके साथ व्यवहार हो। क्षय रोग के व्यक्तियों के साथ कोई भी भेदभाव नहीं किया जाय। सामान्य नागरिक की तरह उनके साथ पेश आया जाय। जन जागरूकता अभियान चलाकर ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों की जांच करायी जाय और क्षय रोग से पीडि़त व्यक्तियों को चिन्हित करके उनके इलाज की समुचित व्यवस्था की जाय और यह सुनिश्चित किया जाय कि वह निर्धारित समय तक क्षय रोग की दवा का सेवन अनिवार्य रूप से करें। साथ ही उसे यह भी बताया जाय कि क्षय रोग ठीक होने में कम से कम 6 माह लगता है और 6 माह तक दवा खानी पड़ती है तो मरीज टी0बी0से मुक्त हो जाता है और सामान्य नागरिकों की तरह हो जायेगा। क्षय रोग का इलाज समस्त सरकारी अस्पतालों में निःशुल्क मिलता है। रोगी को टी.बी.हो या नहीं इसके लिए उसके बलगम की जांच निःशुल्क करायी जाती है।इस अवसर पर मुख्य विकास अधिकारी डा0 महेंन्द्र कुमार, प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश, जिला विकास अधिकारी आर0के0त्रिपाठी, जिला क्षय रोग अधिकारी, सदस्य अरविन्द कुमार सिंह रघुवंशी अन्य चिकित्सक तथा समाजसेवी  पंकज अग्रवाल सहित अन्य सदस्य उपस्थित रहे।

जिलारिपोर्ट-विवेक श्रीवास्तव
कलयुग की कलम राष्ट्रीय पत्रिका एवं वेब न्यूज चैनल
जनपद-चित्रकूट
Share To:

Post A Comment: