पथरी का आपरेशन कराने गई महिला, डॉक्टरों ने निकाल  ली किडनी

 *छत्तीसगढ़ के खरसिया में एक निजी अस्पताल में* महिला मरीज के साथ पहुंचे उसके परिजनों ने वहां के डॉक्टरों पर गंभीर आरोप लगाए हैं। उन्होंने डॉक्टरों पर महिला की किडनी निकालने के आरोप लगाए हैं। अस्पताल का नाम वनांचल केयर है। इसे वहीं के डॉक्टर विक्रम राठिया चलाते हैं।

पीड़िता सुमित्रा बाई पटेल के बेटे ने रायगढ़ के एक निजी अस्पताल में उनकी सोनोग्राफी कराई थी। सोनोग्राफी में सामने आया था कि महिला की एक किडनी में 4 एमएम और दूसरी में 20 एमएम का स्टोन है। इसके बाद महिला को ऑपरेशन के लिए खरसिया के वनांचर केयर अस्पताल में 26 मई को भर्ती कराया गया।

30 मई को उनकी एक किडनी का आपरेशन किया गया। ये आपरेशन डॉक्टर वीएस राठिया, खरसिया सिविल अस्पताल के प्रभारी चिकित्सा अधिकारी डॉक्टर सजन अग्रवाल और सक्ती शासकीय अस्पताल में पदस्थ डॉ आरके सिंह द्वारा किया गया।

महिला के आपरेशन के बाद उसके शरीर को देखकर उसके परिजनों को थोड़ा शक हुआ कि शायद महिला की किडनी निकाली गई है। शक के आधार पर उन्होंने एक बार फिर महिला की सोनोग्राफी कराई। सोनोग्राफी में साफ हो गया कि महिला के शरीर से किडनी चोरी कर ली गई है।
Share To:

Post A Comment: