मेरे प्यारे मित्र प्रणाम आप बताएं  और पूछें  क्या है समाधान  क्या है हाल  क्या है सलूशन  क्या है निराकरण  की सभी समस्याओं का समाधान क्या है


  भारत देश की सभी कठिनाइयों का निराकरण क्या है  हिंदुस्तान की अनेक प्रॉब्लम का सलूशन क्या है और कैसे हो सकता है  वर्तमान में हमारे समाज में अनेक समस्याएं विद्वान है  आज हम विभिन्न प्रकार की कठिनाइयों से रूबरू हो रहे हैं  वेयर फेसिंग लोटो प्रॉब्लम इन अवर स्टेट इन आवर एरिया  लाइक पापुलेशन प्रॉब्लम फॉर पोलूशन प्रॉब्लम करप्शन प्रॉब्लम ट्राफिक प्रॉब्लम एक्स फैक्टर  हाउ टू सॉल्व ऑल दिस प्रॉब्लम  हमारे राज्य में हो रही अनेक समस्याओं का समाधान क्या कठिनाई का निराकरण क्या प्रॉब्लम का सलूशन क्या है पूछे और बताएं  आर्थिक अपराधों की रोकथाम कैसे हो  जल समस्या का समाधान क्या है  प्रदूषण का निराकरण क्या है  प्रदूषण से कैसे निपटें  सन को किस तरह से ठीक किया जा सकता है  ध्वनि प्रदूषण का उपाय क्या है  आज हमारी जमीन जो बंजर होती चली जा रही जहरीली होती चली जा रही है इसको किस तरह से सुधारना ठीक बनाना है  साथियों हम बातें तो बहुत प्रकार की करते हैं लेकिन कुछ उपयोगी और सार्थक इस तरह की बातें करें तो हमारा जीवन उचित और उपयुक्त हो  जिंदगी  का सदुपयोग और बेहतर इस्तेमाल तभी हो सकता है जब हम देश की देश प्रेम और राष्ट्रहित में बात करें राष्ट्रप्रेम और देशहित में बात करें  स्वच्छता अभियान कैसे सफल हो सकता है  पर्यावरण प्रदूषण का समाधान क्या है कैसे सुधार हो सकता है  घटता जल स्तर कैसे बचाया जा सकता है  प्राकृतिक आपदाओं का सामना कैसे किया जा सकता है  डिजास्टर की वजह क्या है और उनको कैसे रोका था ना जा सकता है  वह कौन कौन से कारण है जिसके कारण भूकंप और ज्वालामुखी आते हैं और इन को कैसे कम किया जा सकता है  बाढ़ आना अकाल आना बहुत ज्यादा तापमान में वृद्धि होना इन सब सारी बातों का समाधान किसी वैज्ञानिक से किसी राजनेता से किसी अधिकारी से पूछे और बताएं  क्या एक अधिकारी का एक राजनेता का एक मिस्टर का एक एमपी का एक एमएलए का यह फर्ज कर्तव्य नहीं है कि इन सारी समस्याओं का समाधान ढूंढने और बताएं  सैकड़ों हजारों लाखों वैज्ञानिक और अधिकारी हमारे देश में है  फिर भी आज तक यह समस्या बढ़ती ही चली जा रही है  पापुलेशन प्रॉब्लम इंक्रीज हो रही है  जनसंख्या देश की बढ़ती चली जा रही है  जैसा कि सच है हकीकत है वास्तविकता है कि जनसंख्या की सारी समस्याओं का जड़ है मूल है  बेरोजगारी क्यों है इसका कारण क्या है  बेकारी क्यों है इसका कारण क्या है  कुमारी क्यों है इसका कारण क्या है  अपने देश में आत्महत्या इतनी ज्यादा क्यों बढ़ रही इसका कारण क्या है  क्या बहुत ज्यादा हो रही है इनकी बजे क्या  व्यक्ति की शारीरिक और मानसिक बीमारियां बढ़ती चली जा रही है इसकी क्या वजह है  व्हाट वास द रीजन बिहाइंड इट ऑल द प्रॉब्लम्स  हाउ टू सॉल्व ऑल द प्रॉब्लम्स ऑफ इंडिया  हमारे देश में  लगातार बीमारी में वृद्धि हो रही है  हर दिन नई नई तरह की बीमारी और रोग पैदा हो रहा है  इन बीमारियों से चंगा होने की  उपाय क्या मेथड क्या विधि क्या है  निरोग किस तरह से हुआ जा सकता है  अस्वस्थ से स्वस्थ किस प्रकार हुआ जा सकता है  बढ़ते जल स्तर घटते जलस्तर को बढ़ाएं कैसे जा सकता है रोकथाम कैसे की जा सकती है कि जल में कमी ना हो  वायु प्रदूषण को कम कैसे किया जा सकता है वायु प्रदूषण का स्तर कैसे लोग कैसे कम हो  जल प्रदूषण को कैसे कम किया जा सकता है  इन सभी परियोजनाओं पर पिछले 20 साल में अब तक जो है सैकड़ों हजारों लाखों अरबों खरबों रुपए खर्च किए जा चुके हैं लेकिन कोई समाधान नहीं मिला  यातायात समस्या का समाधान क्या है  व्हाट इज द सलूशन ऑफ ट्रैफिक प्रॉब्लम  विगत 20 वर्षों में अनेक तरह की परियोजनाएं प्रोजेक्ट इसके लिए लागू किए जा चुके हैं लेकिन किसी भी तरह का कोई भी रिजल्ट नहीं मिला  किसी भी प्रकार का कोई भी समाधान नहीं हुआ  किसी भी कठिनाई का कोई भी निराकरण नहीं हुआ  केंद्र और राज्य सरकारों ने करोड़ों अरबों खरबों रुपए खर्च कर दिए लेकिन समस्याओं की तो जोगी तो बुद्धिमान रही बल्कि और भी बढ़ती चली गई  कठिनाइयों का निराकरण नहीं हुआ बल्कि कटने का निरंतर अधिक होती चली आ रही है  फिल्म का सलूशन नहीं हुआ प्रॉब्लम डिक्रीज होने की वजह इनक्रीस होती चली आ रही है  किस चीज में कमी है किस बात में कमी है क्या हमारी योजनाएं परियोजनाएं सही नहीं है  प्रोजेक्ट प्लान सही नहीं है  या फिर दिशा मार्गदर्शन की कमी है या ठीक-ठाक नहीं है  अगर सब कुछ ठीक-ठाक है तो करोड़ों अरबों खरबों रुपए खर्च होने के बावजूद भी परिणाम नहीं मिल रहा है  समस्या का समाधान नहीं हो रहा है  का निराकरण नहीं हो रहा है  का सलूशन नहीं मिल रहा है  इंसान का जिंदगी जीना दूभर हो गया  मनुष्य का जीवन लीला  और पाप ताप संताप से भरा हुआ हो गया  क्या हमारी रीति नीति गलत है  हमारी योजनाएं परियोजनाओं में कुछ कमी कमी कमजोरी है  क्या हमारे अधिकारी और नेता अयोग्य  कि हमारे आईएएस आईपीएस आईएफएस योग्य नहीं है दक्षिणी है सक्षम नहीं है अनफिट अनेबल  अगर योग्य हैं दक्षिण सक्षम है तो फिर समस्याओं का समाधान क्यों नहीं हो रहा  खिलाड़ियों का निराकरण क्यों नहीं हो रहा है  प्रॉब्लम का सलूशन क्यों नहीं मिल रहा है  पूछे राज्य सरकार से वो बताएं  पूछे केंद्र सरकार से हो बताएं  पूछे एनजीओ के संचालकों से और बचाएं  आप पूछे प्रश्न करें समाजसेवी संस्थाओं से और बताएं  अगर इस दिशा में हम थोड़ा भी सोच सके और कर सके  अगर इस बारे में हम इस राह पर चल सके  तो शायद हम दुख से सुख में चले जाएं  शायद हम रोग से निरोग हो जाएं  देशवासी बेरोजगारी से रोजगार पा जाएं  हो सकता है कि राज्य के निवासियों को और ज्यादा अधिक सुविधाएं मिल जाए  उनकी भुखमरी दूर हो  उनकी बेकारी दूर हो कामकाज में लग जाए  विधानी से धनवान बन जाए  उनके अमंगल से मंगल हो जाए  सभी अस्वस्थ है तो स्वस्थ हो जाएं  सबका भला हो  अरे का मंगल हो  सत्य का कल्याण हो  ऐसी ही कामना और प्रार्थना  अस्तित्व से करता हूं  खुदा से करता हूं  अल्लाह से करता हूं  व्हाट्सएप रेयर करता हूं  भगवान से आपके लिए प्रार्थना करता हूं  बहुत-बहुत शुक्रिया  मेवात  थैंक यू वेरी मच टू ऑल ऑफ यू

Share To:

Post A Comment: