4 लुटेरे गिरफ्तार, 1 फरार साथी की तलाश , नगदी 60 हजार रूपये, 2 कट्टे, ,1 कारतूस, 5 मोबाईल, 2 मोटर सायकिल जप्त

Kkkन्यूज जबलपुर- थाना बेलखेडा के अपराध क्रमांक  214/19 धारा-394 भा.द.वि. गिरफ्तार आरोपीः-
1. रंजीत सिंह लोधी पिता साहब सिंह लोधी उम्र 26 वर्ष निवासी भमक पडरिया थाना पाटन   
2. धर्मेन्द्र िंसह लोधी पिता लक्ष्मी सिंह लोधी उम्र 31 वर्ष निवासी ग्राम सिमरिया थाना पाटन 3. अजीत सिंह ठाकुर पिता भीकम िंसह ठाकुर उम्र 31 वर्ष निवासी ग्राम सिमरिया थाना पाटन 4. शुभम सेन पिता भूपत सेन उम्र 20 वर्ष निवासी ग्राम झलोन थाना बेलखेडा फरार आरोपीः- 1. दुर्गेश उर्फ दुर्गी निवासी बेलखेडा
जप्तीः- छीने हुये रूपयों में से नगदी 60 हजार रूपये एवं 5 लाल रंग की बही, घटना में प्रयुक्त 2 कट्टे, 1 कारतूस,   2 मोटर सायकिल, एवं 5 मोबाईल।
थाना बेलखेडा में दिनॉक 21-7-19 को आशीष जैन उम्र 38 वर्ष निवासी झलोन ने रिपोर्ट दर्ज करायी थी कि बेलखेडा में उसकी सिद्धार्थ ट्रेडर्स नाम से सीमेंट की दुकान है, दिनॉक 20-7-19 को  रात 8-30 बजे दुकान को बंदकर अपने नौकर मोनी यादव के साथ एक्टीवा मे अपने घर झलेन की ओर जा रहा था। जैसे ही ग्राम मातनपुर से आगे बढे, मोड पर अज्ञात 3 व्यक्ति खडे दिखे जिसमे से 2 लोग हाथ मे बेस बॉल का डण्डा लिये थे, उसकी गाडी के सामने आकर बेस बॉल के डण्डे से मारा जिससे अनियंत्रित होकर एक्टीवा सहित दोने गिर पडे, सभी ने उसके एवं मौनी के साथ बेस बॉल के डण्डे से मारपीट की तभी उनमें से एक व्यक्ति ने हफाई फायर किया तो डरकर वह एवं मौनी यादव खेत तरफ भागे, एक्टीवा में सामने की ओर रखा उसका काले रंग का बैग जिसमें नगद 95 हजार रूपये व दुकान की 5 बही रखी थी लेकर वहॉ से भाग गये। बेस बॉल के डण्डे से मारपीट के कारण उसे एवं नौकर मौनी यादव के हाथ पैर में चोटे आ गयी। अज्ञात तीन व्यक्तियो ने मारपीट कर बैग जिसमे नगदी रूपये रखे थे लेकर भाग गये हे।  रिपोर्ट पर धारा 394 भादवि का अपराध पंजीबद्ध कर विवेचना मे लिया गया। उक्त घटित हुई सनसनीखेज घटना को लेकर बेलखेडावासियों मे काफी रोष था, घटना की गम्भीरता को दृष्टिगत रखते हुये अति.पुलिस अधीक्षक ग्रामीण डॉ. राय सिंह नरवरिया एवं पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह (भा.पु.से.) स्वयं बेलखेडा मौके पर पहुचे, तथा स्थानीय लोगो से बातचीत की एवं आरोपियों की पतासाजी कर शीघ्र गिरफ्तारी हेतु आदेशित किया गया।  आदेश के परिपालन में एस.डी.ओ.पी. पाटन श्री एस.एन. पाठक के नेतृत्व में थाना प्रभारी बेलखेडा श्री आसिफ इकबाल के हमराह एक टीम गठित की गयी। गठित टीम द्वारा लगातार पतासाजी करते हुये संदेही शुभम सेन, दुर्गेश उर्फ दुर्गी , धर्मेन्द्र, रंजीत, अजीत का घटना दिनॉक को घटना स्थल पर पाया जाना, लगातार एक दूसरे से मोबाईल पर संपर्क में होना, घटना के दिन संदेहियों का घर पर न होना पाया जाने पर शुभम सेन, धर्मेन्द्र, रंजीत, अजीत को सरगर्मी से तलाश कर अभिरक्षा मे ंलेकर सघन पूछताछ की गयी जिन्होंने रूपये का बैग छीनना स्वीकार करते हुये आपस में रूपये बांट लेना बताये। घटना के सम्बंध में पूछताछ पर पाया गया कि दुर्गेश एवं शुभम सेन ने सिद्धार्थ ट्रेडर्स के मालिक आशीष जैन जो रोजाना दुकान बंद कर ग्राहकी की रकम लेकर अपने घर झलोन जाता था के पैसे लूटने की योजना बनाई, जो योजना के तहत दोने क्षेत्र के स्थानीय निवासी होने एवं लोगो के द्वारा पहचाने जाने के डर के कारण बेलखेडा क्षेत्र के बाहर के अन्य तीन लोग रंजीत , अजीत एवं धर्मेन्द्र को योजना मे शामिल किया। अजीत एवं दुर्गेश की दोस्ती जेल में हुई थी, जिसके बाद दुर्गेश ने जेल से बाहर आकर अजीत से सम्पर्क कर घटना को घटित करने की योजना बनाई।
घटना के दिन आरोपी शुभम सेन द्वारा सिद्धार्थ ट्रेडर्स के मालिक आशीष जैन की रैकी की गयी ,एवं आशीष जैन के प्रत्येक मूवमेंट की जानकारी दुर्गेश को दी गयी, योजना के तहत रंजीत, अजीत, धर्मेन्द्र मातनपुर झलोन मोड पर आशीष जैन का इंतजार कर रहे थे, आशीष जैन के पहुंचते ही  तीनों अचानक बेस बॉल के डण्डे से हमला करते हुये हवाई फायर कर डरा धमकाकर आशीष जैन का काले रंग का बेग लेकर भागे, भागते समय मौके पर 1 मोटर सायकिल छोडकर भागे गये थे , जिसे घटना स्थल से जप्त किया गया था,  जो तस्दीक पर चोरी की होना पायी गयी थी, उक्त मोटर सायकिल चोरी जाने के सम्बंध मे माह मई में महगवॉ चरगवॉ निवासी सुनील ठाकुर द्वारा थाना बेलखेडा मे रिपोर्ट दर्ज करायी गयी थी।  आरोपी शुभम सेन से घटना में प्रयुक्त मोटर सायकिल, 1 देशी कट्टा एवं 2 मोबाईल तथा नगदी 15 हजार रूपये, आरोपी अजीत से 1 देशी कट्टा, 1 कारतूस, 1 मोबाईल एवं नगदी 20 हजार रूपये, धर्मेन्द्र से 1 बेस बॉल का डण्डा, नगदी 13 हजार रूपये एवं 1 मोबाईल, रंजीत से एक बेस बॉल का डण्डा नगद 12 हजार रूपये एवं 1 मोबाईल जप्त किये गये, दुर्गेश को बटवारे मे 22 हजार रूपये मिले थे जो घटना कारित कर फरार है, जिसकी तलाश जारी है। उल्लेखनीय भूमिकाः- आरोपियों को गिरफ्तार करने में थाना प्रभारी बेलखेडा श्री आसिफ इकबाल, उप निरीक्षक रोही ज्योतिषी, पीएसआई शिवगोपाल गुप्ता, सहायक उप निरीक्षक संतोष सिंह, आरक्षक संदीप घोषी, राघवेन्द्र, मोहित की सराहनीय भूमिका रही। पुलिस अधीक्षक जबलपुर श्री अमित सिंह (भा.पु.से.) ने टीम को नगद पुरूस्कार से  पुरूस्कृत करने की घोषणा की है।

Share To:

Post A Comment: