6000 से बढ़कर 8000 रुपये हो सकती है पीएम किसान सम्मान निधि की रकम

मोदी सरकार अपने बजट में प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि स्कीम के तहत किसानों को दी जाने वाली सहायता बढ़ा सकती है। लोकसभा चुनाव में बीजेपी ने इसकी अच्छी सियासी फसल काटी है।अब विधानसभा चुनावों के मद्देनजर और ग्रामीण अर्थव्यवस्था की सेहत सुधारने के लिए सरकार इस स्कीम के तहत मिलने वाले सालाना 6000 रुपये को बढ़ाकर 8000 कर सकती है।

तेलंगाना और ओडिशा की सरकार अपने राज्य के किसानों को मोदी सरकार की इस स्कीम से कहीं अधिक सहायता दे रही हैं। इसलिए भी बजट में किसानों के लिए इसकी बढ़ोत्तरी का तोहफा मिलने की संभावना है।

अब तक देश के चार करोड़ किसानों को इस स्कीम के तहत चार-चार हजार रुपये मिल चुके हैं। पहली बार है जब किसानों के अकाउंट में सीधे पैसा जा रहा है। केंद्र का भेजा सौ फीसदी पैसा मिल रहा है, वरना अब तक किसानों के लिए हजारों करोड़ के बजट बनते थे और वो पैसा अधिकारी और बाबू मिलकर फाइलों में ही खा जाते थे। पैसा मिल रहा है तो खेती की सेहत भी सुधर रही है और मार्केट की. क्योंकि किसान यह पैसा कहीं न कहीं खर्च कर रहा है।

Share To:

Post A Comment: