बिलग्राम हरदोई ।। कहते हैं किसी की खुशी में शामिल होना कोई बड़ी बात नहीं है बात तो तब है जब किसी बेसहारा और परेशान हाल इंसान का सहारा बना जाये मानवता की सेवा करने के लिए इंसान के अंदर सेवा भाव का होना जरूरी है।बड़े बड़े पैसे वाले अधिकारियों को होटलो में टिप के तौर पर हजारों रुपये खर्च करते हुए देखा जाता है परंतु किसी गरीब के लिए उनकी जेब से फूटी कौड़ी भी नहीं निकलती लेकिन बहुत से प्रशासनिक अधिकारी दीन दुखियों की सेवा कर बेसहारों का सहारा बनकर न केवल समाज में एक अच्छा संदेश देते हैं बल्कि लोगों के दिलो में भी बसते है ऐसा ही एक कार्य कर बिलग्राम एसडीएम सतेंद्र सिंह खूब वाहवाही लूट रहे हैं दरअसल मामला ये है कि एक महिला बीते मंगलवार तहसील दिवस में आकर एसडीएम बिलग्राम से आजीजाना तौर पर अपने बच्चों की परवरिश के लिए एक सिलाई मशीन की मांग की थी जिसपर उपजिलाधिकारी ने उसका न तो नाम पूछा और न ही पता बल्कि सीधे तौर कहा शनिवार को आकर आप सिलाई मशीन ले जाना जब वो महिला शनिवार को उपजिलाधिकारी की चौखट पर पहुंची तो आपने फौरन अपने व्यक्तिगत संसाधन से उस महिला को सिलाई मशीन उपलब्ध कराई
Share To:

Post A Comment: