जिलाधिकारी की अध्यक्षता में श्रावण मास की अमावस्या मेला को लेकर कार्यालय के सभाकक्ष में अधिकारियों के साथ बैठक हुई संपन्न

चित्रकूट-गत दिवस जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में श्रवण मास की अमावस्या मेला को सकुशल, शांतिपूर्ण सम्पन्न कराये जानें व विभिन्न व्यवस्थाओं हेतु कैम्प कार्यालय के सभाकक्ष में अधिकारियों के साथ बैठक सम्पन्न हुई।जिलाधिकारी ने कहा कि श्रावण मास में अमावस्या 01 अगस्त 2019 को पड़ रही है। जिसका मेला 31 जुलाई 2019 से ही प्रारम्भ होकर 02 अगस्त 2019 तक चलेगा। जिसमें लगभग छः से सात लाख तक श्रृद्धालुओं के आने की संभावना है। उन्होंने अधिकारियो से कहा कि अमावस्या मेला को सकुशल सम्पन्न कराने तथा शांति एवं कानून व्यवस्था बनाये रखा जाये। उन्होंने उप जिलाधिकारी कर्वी को निर्देश दिये कि परिक्रमा मार्ग को मेला के पूर्व चेक करें और परिक्रमा मार्ग पर पड़े पत्थरों को हटवायें। और किसी प्रकार के परिक्रमामार्ग में छोटे-छोटे पत्थर नही मिलना चाहिये। श्रृद्वालुओं को किसी प्रकार की समस्या नहीं होनी चाहिए। उन्होंने क्षेत्रीय प्रबन्धक राज्य सड़क परिवहन अधिकारी से कहा कि कोई भी श्रृद्वालु बस की छत पर नही बैठना चाहिए और भारी वाहन खड़े करने के लिये बेड़ी पुलिया के पास व्यवस्था की जाय और भारी वाहन को बेड़ी पुलिया के पास ही रोका जाय। उन्होंने सिंचाई प्रखण्ड प्रथम से कहा कि बाढ़ की सम्भावना के नजर चलते हुये आप अपनी पूरी तैयारी रखें। रामघाट मंदाकिनी नदी में जल बैरीकेटिंग,जंजीर की व्यवस्था,गैस ट्यूब व डूबने से बचाव वाले उपकरण लगवाये जाने व गोताखोर नाव की व्यवस्था किये जाने के निर्देश दिये तथा कहा कि रामघाट पर सीढि़यों की सफाई करा दें। अधिशासी अधिकारी नगर पालिका परिषद चित्रकूटधाम कर्वी से पूर्व की भांति साफ-सफाई होनी चाहिये किसी प्रकार की गंदगी नही मिलना चाहिये। उन्होंने विद्युत विभाग को निर्देश दिये कि विद्युत आपूर्ति व्यवस्था कर लें ताकि विद्युत आपूर्ति बाधित होने पर किसी प्रकार की समस्या न हो सके। जिला पंचायत राज अधिकारी को निर्देश दिये कि भी साफ-सफाई हेतु सफाई कर्मियों की आज ही से नियुक्ति कर दिये जायें।और कहा कि जो भी कूड़ा-कचरा निकले उसे परिक्रमा मार्ग से काफी दूर फिकवायें। उन्होंने मुख्य चिकित्साधिकारी से कहा कि जहां-जहां पर एम्बेलेंस और डाक्टरों की टीम लगायी जाती है वहां-वहां पूर्व की भांति लगायें। अधिशाषी अभियंता जल संस्थान से मेला अवधि के दौरान सम्पूर्ण मेला क्षेत्र में समुचित जलापूर्ति की व्यवस्था तथा रामघाट, रैन बसेरा एवं पार्किंग स्थलों के आस-पास पेयजल हेतु टैंकरों की व्यवस्था करने के निर्देश दिये। उन्होंने कहा जल निगम वाटर कूलर को चेक कर ले किसी प्रकार की कमी नही होनी चाहिये। उन्होंने अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका एवं अभिभिहित अधिकारी खाद्य को निर्देश दिये कि आपनी टीम के साथ वहां पर मौजूद रहे और जो परिक्रमामार्ग पर दरी व चादरें बिछाकर व्यापार करते है उनको रोकें। आप पहले से ही जाकर चेक करें। और जो दुकानदार बाहर दुकान लगाते है उन्हें अन्दर लगाने को कहें। हलवाइयों/दुकानदारों द्वारा जो भी सामान बनाया जाता है उसे अभिभिहित अधिकारी खाद्य को चेक करने के निर्देश दिये। अंत में जिलाधिकारी ने कहा कि जिन अधिकारियों को जो जिम्मेदारियां सौंपी गयी है मेला प्रारम्भ होने से पूर्व सुनिश्चित कर ली जाये।बैठक में उप जिलाधिकारी कर्वी  इन्दु प्रकाश, उप जिलाधिकारी मऊ  रमेश यादव, मानिकपुर  संगमलाल, अपर पुलिस अधीक्षक बलवंत चौधरी, जिला विद्यालय निरीक्षक, जिला कृषि अधिकारी, अधिशाषी अधिकारी नगर पालिका परिषद कर्वी, अधिशाषी अभियन्ता लोक निर्माण विभाग, जल संस्थान, जल निगम, विद्युत, सिचाई, प्रभारी निरीक्षक कोतवाली, सहित संबंधित अधिकारी मौजूद रहे।

मंडल प्रभारी अश्विनी कुमार श्रीवास्तव
कलयुग की कलम राष्ट्रीय समाचार पत्रिका एवं दैनिक वेब न्यूज चैनल
*जनपद* चित्रकूट
Share To:

Post A Comment: