अतिथि  शिक्षक जो पूर्व से सेवाएं देते आ रहे थे उनकी मेहनत का तनिक भी नहीं मिल रहा  फल  जबकि की कमलनाथ सरकार के वचन पत्र में  अतिथि शिक्षकों के उत्थान की बात कही गई थी।
पहले
 शिवराज मामा और अब कमल नाथ दोनो एक जैसे 

 अतिथि शिक्षक संघ के अध्यक्ष ने अतिथि शिक्षकों को लिखा पत्र 

आदरणीय शिक्षक साथियों सादर नमस्कार आज दिनांक 11.07 2019  को संयुक्त अतिथि शिक्षक संघ प्रदेश अध्यक्ष श्री राजू मीणा जी सतना से आई पी पटेल जी गुना से सुनील परिहार जी ओर मैं स्वयं सुबह 11:00 बजे से लगभग रात के 8:00 बजे तक आदरणीय सिंधिया जी से मिलने के लिए प्रयासरत रहे, किंतु उनसे हमारी किसी भी तरह की कोई वार्ता ना हो सकी ।।साथियों कांग्रेश चुनाव के पहले अपना जो व्यवहार हमें बता रही थी आज उस व्यवहार में जमीन आसमान का अंतर है आदरणीय शिक्षा मंत्री प्रभु राम चौधरी जी से हमारी मुलाकात हुई उन्होंने साफ कहा कि अब कुछ नहीं हो सकता आप लोगों को अंक दे दिए आप लोगों ने पिछले वर्ष ऑनलाइन प्रक्रिया का विरोध क्यों नहीं किया जब शिवराज सरकार थी इसके अलावा मंत्री जी किसी बात पर राजी ना हुए साथियों हम ने 25 जून को मंत्री जी से मिलने के लिए बंगले के अंदर बैठकर जो दबाव बनाया था उसकी उल्टी सीधी मांग किस अध्यक्ष द्वारा रखी गई हमें कोई जानकारी नहीं है दो मुखी सरकार कांग्रेस से अपना अधिकार लेना है तो हमें अपने घरों से निकलना होगा प्रदेश टीम हर अतिथि के साथ है तथा उसका सहयोग चाहती है।। साथियों आगे आपकी मर्जी हम आंदोलन के लिए तैयार हैं कोई भी अतिथि संयुक्त अतिथि शिक्षक संघ की प्रदेश टीम पर कोई उंगली ना उठाएं क्योंकि हम दिन रात अपनी तरफ से संपूर्ण प्रयास कर चुके सरकार और अधिकारी अपनी मनमानी कर रहे है इसमें प्रदेश टीम का कोई हाथ नहीं है।। कांग्रेस के जो मंत्री मंच से ऊनी शपथ नही पाए थे आज बो पुराने अतिथियों को अयोग्य बता रहे है ।।अब व्हाटसअप ओर फेसबुक से बाहर आइये अपने आने जिला अध्यक्ष और ब्लॉक अध्यक्ष को एक्टिव कीजिये ।। आगे की रननीति के लिए सभी जिला अध्यक्षो को भोपाल में जल्द बुलाया जाएगा । हम लगातार प्रयासरत हैं ।।।

संयुक्त अतिथि शिक्षक संघ मध्यप्रदेश
Share To:

Post A Comment: