चित्रकूट- मान्नीय उच्चतम न्यायालय,नई दिल्ली व मान्नीय उत्तर प्रदेश राज्य विधिक सेवा प्राधिकरण लखनऊ के निर्देशानुसार दिनांक 13 जुलाई 2019 को राष्ट्रीय लोक अदालत का आयोजन जनपद चित्रकूट में किया जायेगा। जिसमें सुलह समझौते के माध्यम से निम्न प्रकार के वादों का निस्तारण किया जायेगा। जिसके अंतर्गत आपराधिक यौगिक अपराध, धारा 138 के तहत एनआइ अधिनियम मामले, बैंक रिकवरी के मामले, एमएसीटी मामले,श्रम विवाद के मामले,बिजली और पानी के बिल (गैर-मिश्रित को छोड़कर),वेतन और भत्ते और सेवानिवृत्त लाभों से संबंधित सेवा मामले,वैवाहिक विवाद,भूमि अधिग्रहण के मामले, राजस्व मामले (केवल जिला न्यायालयों और उच्च न्यायालयों में लंबित), अन्य सिविल मामले (किराया,आसान अधिकार,निषेध सूट,विशिष्ट प्रदर्शन सूट) आदि मामलों का निस्तारण किया जायेगा। उन्होंने बताया कि उक्त वादों के निस्तारण के साथ-साथ ऐसे वाद जो अभी न्यायालय के समक्ष नहीं आये हैं उन्हें भी वाद पूर्व सुनवाई (प्री-लिटिगेशन) स्तर पर निपटारा किया जा सकता है। संबंधित पक्षकार इसके लिए संबंधित विभाग/बैंक/न्यायालय/कार्यालय अथवा जिला विधिक सेवा प्राधिकरण के कार्यालय से सम्पर्क कर सकते हैं। ताकि 13 जुलाई 2019 को आयोजित
होने वाले राष्ट्रीय लोक अदालत में अधिकाधिक मामलों / वादों का निस्तारण हो सके तथा वादकारियों को सस्ता एवं त्वरित न्याय प्रदान किया जा सके। यह जानकारी नोडल आफीसर लोक अदालत/ अपर जिला जज/एफ.टी.सी. चित्रकूट श्रीमती निहारिका चौहान ने प्रेस विज्ञप्ति के माध्यम से दी है। 

मंडल ब्यूरोरिपोर्ट-अश्विनी कुमार श्रीवास्तव
कलयुग की कलम राष्ट्रीय समाचार पत्रिका एवं वेब न्यूज चैनल
जनपद-चित्रकूट
Share To:

Post A Comment: