चित्रकूट- जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय ने गत दिवस ग्राम बसिला में निर्माणाधीन पशु आश्रय गृह का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान पशु आश्रय गृह में एक टीन शेड,जिसमें चरही,पानी पीने का स्थान,भूसा घर,गौवंश औषधि केन्द्र,चौकीदार कक्ष बना मिला। तालाब का कार्य अधूरा तथा खड़न्जा का कार्य भी नहीं हुआ। गेट भी नहीं लगा पाया गया। इस प्रकार तमाम कार्य अधूरे पाये जाने पर मुख्य पशु चिकित्साधिकारी को निर्देश दिये कि कार्यदायी संस्था एवं ग्राम प्रधान को सचेत करते हुए 10 दिन के अंदर अवशेष कार्यों को पूर्ण करायें। उन्होंने प्रधान से कहा कि खड़न्जे का कार्य तथा जे.ई.,आर.ई.एस. से कहा कि तालाब का कार्य 10 दिन के अन्दर हो जाने चाहिए अन्यथा की स्थिति में कठोर कार्यवाही अमल में लायी जायेगी। पशुओं के भरण-पोषण हेतु भूसा कहां से क्रय किया जाता है इसकी भी जानकारी ली।इस अवसर पर मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 सुधीर सिंह,अवर अभियंता आर.ई.एस. ,ग्राम प्रधान एवं अन्य नागरिक उपस्थित रहे।

मंडल ब्यूरोरिपोर्ट अश्विनी कुमार श्रीवास्तव
कलयुग की कलम राष्ट्रीय समाचार पत्रिका एवं वेब न्यूज चैनल
जनपद-चित्रकूट

Share To:

Post A Comment: