मनगवा। मनगवा चाकघाट नेशनल हाईवे में बंसल कंपनी द्वारा बेतरतीब तरीकों से सड़कों का निर्माण किया था जिससे पहली ही बरसात में पकड़ियार नदी के पास कई फीट नेशनल हाईवे की सड़क धंस गई जिससे 1 दर्जन से अधिक वाहन दुर्घटनाग्रस्त हुए बता दें कि बंसल कंपनी द्वारा सड़क सड़क को जल्दी पूरा करने के चक्कर में सड़कों पर पीली मिट्टी के जगह काली मिट्टी डालकर बिना पानी के छिड़काव के ही डामर कर दिया जिससे पहली बरसात भी हाईवे की सड़क सह नहीं पाई और धस गई यह तो एक जगह का बकाया है पता नहीं कितने जगह से दुर्घटना पॉइंट बने हुए हैं जिससे सड़कों पर यात्रा करने वाले लोग जान जोखिम में डालकर यात्रा कर रहे हैं ग्रामीणों में आक्रोश हुआ तो आनन-फानन में कंपनी के कर्मचारी अधिकारी पहुंचे और रेत डालकर उसे बराबर करने की कोशिश की जिससे ग्रामीणों ने विरोध किया सड़क को दोबारा बनाया जाए अन्यथा कोई बड़ी दुर्घटना हो सकती है

कंपनी ने नदी की चौड़ाई को किया कम
➖➖➖➖
एक और जहां प्रदेश सरकार नदी तालाबों को गहरा करा कर पानी संरक्षित कर रहा है वही मंगवा चाकघाट हाईवे निर्माण करने वाली बंसल कंपनी ने पकड़ियार नदी के पास पुलिया निर्माण के समय नदी को दोनों तरफ से पाट दिया था और पुलिया बनने के बाद भी ना तो उस नदी पर पड़ी मिट्टी निकाली और ना ही कोई वैकल्पिक व्यवस्था आलम यह है कि बरसात में नदी की चौड़ाई छोटी होने से 5 दर्जन से अधिक गांव डूब की चपेट में आ जाएंगे अभी तो बारिश कम है बारिश जैसे ही बढ़ेगी कटहरा भी बढ़ेगा और धीरे-धीरे ग्रामीणों के घर में पानी कुछ नहीं लगेगा अगर शासन-प्रशासन समय रहते ध्यान नहीं दिया तो स्थित और विकराल हो जाएगी










Share To:

Post A Comment: