कटनी कलेक्टर एस बी सिंह तहसील कार्यालय ढीमरखेड़ा पहुंच कर ली अधिकारियों की बैठक ली 

 इसके पश्चात भाजपा नेता अब्दुल कादिर खान द्वारा जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा की समस्याओं से कराया अवगत

 विशेष समस्या जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा की जनसंख्या करीब दो लाख है।
 जबकि एक लाख की आबादी में एक स्वास्थ्य केंद्र होना आवश्यक है ।

दो लाख की आबादी में एक ही स्वास्थ्य केंद्र बना हुआ है वह भी पान उमरिया में।

 इसके साथ ही दो लाख की आबादी में 32 डॉक्टरों की आवश्यकता होती है जन पद पंचायत ढीमरखेड़ा में 3 डॉक्टर संभाल रहे दो लाख की आबादी

 इसके साथ ही एक ही 108 उपलब्ध है स्वास्थ्य व्यवस्था की जर्जर हालत से लोग परेशान होकर लगातार 181 में शिकायत कर रहे हैं।

 ऐसे में  सोचनीय विषय है कि जहां दो लाख की आबादी में 2 स्वास्थ्य केंद्र होना चाहिए और 32 डॉक्टरों की आवश्यकता होती है  वहां एक स्वास्थ्य केंद्र और 3 डॉक्टर ही उपलब्ध है। 

स्वास्थ्य की गंभीर स्थिति  बनी हुई है ग्रामीण गंभीर अवस्था में पेशेंट लेकर स्वास्थ्य केंद्र पहुंचते हैं लेकिन पर्याप्त डॉक्टर स्टाफ न होने की वजह से उन्हें  जांच कर जबलपुर कटनी रेफर करना पड़ रहा है ।

डॉक्टर्स बीएमओ के सहित किस तरीके से कार्य कर सकते हैं मीटिंग ट्रेनिंग ऑफिस और पेशेंट को देखना ।

 आपातकालीन स्थिति में क्षेत्र में कैंप डालकर इलाज करने की भी आवश्यकता पड़ जाती है  पोस्टमार्टम रिपोर्ट तैयार करना पोस्टमार्टम करना एक्सीडेंटल केस देखना इत्यादि।

 ऐसे में सरकारों को सोचना चाहिए कि जहां दो लाख की आबादी में 3 डॉक्टर 32 डॉक्टर का  काम कैसे कर सकते हैं ।

साथ में अनजाने में लोग डॉक्टर्स को ही दोष दे रहे हैं ये भी 3 डॉक्टर्स में एक बीएमओ शामिल है ।

 भारतीय जनता पार्टी नेता अब्दुल कादिर खान ने कलेक्टर बी एस सिंह को इस समस्या से अवगत कराया कलेक्टर साहब ने समस्याओं को सुनकर जल्द कार्यवाही के लिए आश्वासन दिया है  शामिल रहे अधिकारी एसडीएम देवकीनंदन तहसीलदार आर्य सूर्या डीएमओ केवट



Share To:

Post A Comment: