जिला स्तरीय शांति समिति की बैठक सम्पन्न

Kkkन्यूज रिपोर्टर कटनी:- जिले की गौरवशाली परम्परा के अनुरुप आगामी माह में पड़ने वाले सभी त्यौहार आपसी भाईचारे, सामाजिक सौहार्द और हर्षोल्लास के साथ मनाये जायेंगे। इस आशय का निर्णय सोमवार को कलेक्टर एवं जिला दण्डाधिकारी  शशिभूषण सिंह की अध्यक्षता में सम्पन्न जिलास्तरीय शांति समिति की बैठक में लिया गया। कलेक्ट्रेट सभाकक्ष में सम्पन्न इस बैठक में महापौर शशांक श्रीवास्तव, पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार, आयुक्त नगर निगम आर0पी0 सिंह, संयुक्त कलेक्टर सपना त्रिपाठी, एसडीएम बलबीर रमन, एसडीओपी श्री शर्मा, थाना प्रभारी, समाजसेवी गुमान सिंह सहित शांति समिति के सदस्य, गणमान्य नागरिक उपस्थित थे।

 शांति समिति की बैठक में बताया गया कि 12 अगस्त को ईदुज्जुहा का त्यौहार मनाया जायेगा। इस अवसर पर शहर की 15 मस्जिदों सहित ईदगाह, आदर्श कॉलोनी में नमाज अदा की जायेगी। रक्षा बंघन का त्यौहार और राष्ट्रीय पर्व 15 अगस्त को मनाया जायेगा। इसी प्रकार 16 अगस्त को कजलियां और 23 अगस्त को जन्माष्टमी, 25 अगस्त को दधिकांदो उत्सव, 7 सितम्बर को मोहर्रम का त्यौहार और 3 सितम्बर से 12 सितम्बर तक पर्यूषण पर्व मनाया जायेगा। सभी वर्ग, समुदाय, विविध धर्मावलम्बी नागरिक आपसी भाईचारे की भावना और सौहार्दपूर्वक परम्परा अनुसार मिल-जुलकर त्यौहार मनायेंगे।कलेक्टर श्री सिंह ने आयुक्त नगर निगम को त्यौहार के मौके पर धार्मिक स्थलों पर आवश्यक साफ-सफाई, प्रकाश, आवारा पशुओं का प्रतिबंध एवं पेयजल आपूर्ति की समुचित व्यवस्था के निर्देश दिये हैं। उन्होने कहा कि पूरे जिले के संदर्भ में त्यौहारों के अवसर पर विद्युत आपूर्ति सतत् बनायें रखें। ईदुज्जुहा की नमाज के अवसर पर दोपहर में नगर निगम द्वारा अतिरिक्त पेयजल सप्लाई की जायेगी। समिति के सदस्यों ने बताया कि रक्षाबंधन के बाद मधई मंदिर व लल्लू भैया की तलैया के पास कजलियों का मेला भरता है। जन्माष्टमी के मौके पर जगह-जगह झांकियां बनती हैं और प्रमुख मंदिरों सत्यनारायण मंदिर खिरहनी फाटक, महालक्ष्मी मंदिर, गोविन्द मंदिर में श्रद्धालुओं की तादात अधिक रहती है।जन्माष्टमी के बाद रविवार के दिन 25 अगस्त को दधिकान्दो (मटकी फोड प्रतियोगिता) भी आयोजित की जाती है। इन विशेष अवसरों पर मंदिरों एवं धार्मिक स्थलों पर साफ-सफाई एवं सुरक्षा की पर्याप्त व्यवस्था की जायेगी।

पुलिस अधीक्षक ललित शाक्यवार ने कहा कि शांति समिति के सहयोग से त्यौहारों पर जिले में बेहतर शांति और व्यवस्था सुनिश्चित की जायेगी। थानास्तर पर भी शांति समिति की बैठकें आयोजित कर व्यवस्थायें सुचारु बनाये रखी जायेंगी। उन्होने शांति समिति के सदस्यों से शांति और व्यवस्था में सहयोग देकर प्रभावी भूमिका अदा करने और डीजे का उपयोग नहीं करने तथा ध्वनिविस्तारक यंत्रों के सीमित उपयोग करने की अपील की। जिलास्तरीय शांति समिति की बैठक में सर्वश्री पीताम्बर टोपनानी, भरत अग्रवाल, मारुफ अहमद, मिट्ठू लाल जैन, पंकज जैन, सत्यनारायण अग्रहरि, राजा जगवानी, आशीष तिवारी, आर0बी0 गुप्ता, राकेश जैन, पंकज शर्मा, हाजी बाबा भी उपस्थित थे।

सोनू त्रिपाठी ग्रामीण रिपोर्टर कलयुग की कलम कटनी



Share To:

Post A Comment: