KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल
उत्तर प्रदेश प्रयागराज  स्वास्थ्य  मंत्री सिद्धार्थ नाथ सिंह ने संसद में पेश किए गए आज के बजट को गरीब, गांव और किसान का बजट बताया और कहा कि इसमें इन्वेस्टमेंट का भी ध्यान रखा गया है, अर्थव्यवस्था के निवेश चक्र में तेजी आए और आर्थिक गतिविधियों पर भी बल पड़े इसलिए इंफ्रास्ट्रक्चर पर भी ज्यादा खर्च किया जा रहा है, ग्रामीण और शहरी सड़कों के साथ एक्सप्रेस वे आदि पर ध्यान दिया गया है, मध्यमवर्ग का भी विशेष रूप से ख्याल रखा गया है तथा यदि कोई 45 लाख रुपए तक का मकान लेता है। तो उसे 3.50 लाख रुपए की छूट दी जाएगी, ऐसा भी प्रावधान किया गया है। उन्होंने कहा कि इस तरह के निर्णयों से आर्थिक गतिविधियां बढ़ती हैं। किसानों की आय को दोगुना करने के लक्ष्य के साथ इसे जीरो बजट की नई संकल्पना बताते हुए  कहा कि यह एक ऐसा बजट है। जिसमें सरकार स्वयं कह रही है ।आप मेरा आकलन करें। सरकार कह रही है ।कि हम 2022 तक देश के हर कोने में बिजली पहुंचा देंगे, 2024 तक 100% लोगों को नल से पीने का पानी पहुंचा देंगे, जिससे लोगों को पीने का स्वच्छ पानी मिलेगा और बीमारियों में कमी आएगी। पत्रकार के द्वारा बजट में सरचार्ज लगाने से पेट्रोल के दामों में बढ़ोतरी के बारे में पूंछे जाने पर  मंत्री सिद्धार्थ नाथ ने  बताया कि पेट्रोल के दामों में उतार-चढ़ाव होता रहता है। और आने वाले समय में अंतरराष्ट्रीय बाजार में कच्चे तेल की कीमतों में कमी आती दिख रही है। जिससे इसके मूल्य में कोई विशेष बदलाव नहीं आयेगा। इसके अलावा मुद्रास्फीति पर पेट्रोल के दामों पर सरचार्ज लगाए जाने से कोई ज्यादा प्रभाव नहीं होगा क्योंकि अंतरराष्ट्रीय बाजार में तेलों के दाम घटते हुए दिख रहे हैं। 
      वित्त मंत्री के द्वारा ब्रीफकेस के स्थान पर बही खाते की शक्ल में बजट के लिए लाल फाइल लेकर पहुंचने पर पूछे गए सवाल के बारे में  सिद्धार्थ नाथ सिंह ने बताया की हर वित्त मंत्री का  अपना एक अलग तरीका होता है। निर्मला जी ने यह तरीका अपनाया है ।तो यह भी अच्छा है। उन्होंने कहा कि यदि समग्र बजट को देखा जाए तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी और वित्त मंत्री  निर्मला सीतारमण जी दोनों ही इस बजट के लिए बधाई के पात्र हैं।
Share To:

Post A Comment: