पालतू जानवर छोड़े तो होगी एफआईआर: जिलाधिकारी

घायल व बीमार गोवंश के लिए जारी किये गए नंबर

हरदोई। जिलाधिकारी पुलकित खरे ने समस्त उप जिलाधिकारी, खण्ड विकास अधिकारी, क्षेत्राधिकारी तथा नगरीय निकायों के अधिशासी अधिकारियों से कहा है कि ग्रामीण व शहरी क्षेत्र में कार्यरत अस्थायी गोवंश आश्रय स्थल संचालित है जिनमें क्षेत्र के बेसहारा एवं निराश्रित गोवंश को संरक्षित किया जाता है, परन्तु यह देखा जा रहा है कि क्षेत्रीय पशुपालकों द्वारा अपने पालतू गोवंशीय पशुओं को छोड़ दिया जाता है जिससे अस्थायी गोवंश आश्रय स्थलों में दिन प्रतिदिन गोवंश की संख्या में बढ़ोत्तरी होने के साथ उनके भरण- पोषण की समस्या उत्पन्न हो रही है।
उन्होने कहा है कि ऐसे सभी पशुपालकों को चिन्हित किया जाये, जिनके द्वारा गोवंशीय पशुओं को छोड़ दिया जाता है की संबंधित क्षेत्र के थाने में प्राथमिकी दर्ज कराकर उनके विरूद्व कड़ी से कड़ी विधिक कार्यवाही की जाये जिससे अस्थायी गोवंश आश्रय स्थलों में गोवंश की बढ़ोत्तरी पर रोक लग सके।

उन्होने कहा है कि ग्रामीण क्षेत्र में संचालित गोवंश आश्रय स्थल के संचालन एवं संरक्षित गोवंश के भरण-पोषण तथा घायल, बीमार गोवंश एवं गोवंश स्थल के बाहर घायल तथा बीमार गोवंश के सम्बन्ध में मुख्य पशु चिकित्साधिकारी के दूरभाष नम्बर 05852-232527 पर तथा उप मुख्य पशु चिकित्साधिकारी डा0 प्रकाशवीर के मो0नं0- 8887830154 एवं अन्वेषक/संगणक विजय सिंह के मो0नं0- 9452250357 पर सुचित करेंगें, जिससे गोवंश की चिकित्सा व्यवस्था समय समय पर कराई जा सके।
Share To:

Post A Comment: