विकलांग विश्वविद्यालय सीतापुर चित्रकूट के सभाकक्ष में पोषण मिशन अभियान के अंतर्गत एक दिवसीय कार्यक्रम समारोह का हुआ आयोजन

चित्रकूट-जिलाधिकारी शेषमणि पांडे  की अध्यक्षता में विकलांग विश्वविद्यालय सीतापुर चित्रकूट के सभाकक्ष में पोषण मिशन अभियान के अंतर्गत एएनएम, आशा, आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों का एकदिवसीय अभिमुखीकरण कार्यक्रम एवं राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन परिवार नियोजन के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने वाले कार्यकर्ताओं का सम्मान समारोह संपन्न हुआ।
कार्यक्रम को संबोधित करते हुए जिलाधिकारी ने कहा कि माननीय मुख्यमंत्री जी का कहना है कि शासकीय योजनाओं की जानकारी ग्रामीण क्षेत्रों में जन-जन तक पहुंचे इसमें एएनएम, आशा तथा आंगनवाड़ी की अहम भूमिका है जो इस क्षेत्र में कार्य कर रही हैं। जनपद को कुपोषण से जल्दी से जल्दी मुक्ति दिलाना है। जनपद में कितने बच्चे लाल पीली श्रेण़ी में कौन सा बच्चा है आप ईमानदारी से इस क्षेत्र में कार्य करें तो आप लाल का काल बनकर उसे हरी श्रेणी में ला सकती हैं। आपके पास सभी उपाय हैं जो आप कर सकती हैं मेरा मानना है कि यही त्रिमूर्ति (एएनएम, आशा, आंगनवाड़ी) उनका उपचार करके सभी बच्चों को कुपोषित से बाहर निकाल सकती हैं और कुपोषण खत्म कर सकती हैं, इसके साथ ही गर्भवती/धात्री महिलाओं तथा बच्चों का इस तरह ध्यान रखना है जैसे वह आपके ही परिवार के सदस्य हैं उनके इलाज का भी ध्यान देना होगा जिससे वह भी स्वस्थ जीवन जीने में समर्थ हो सके। आप तीनों लोगों को एक साथ मिलकर कार्य करते हुए एनीमिया, एच0आर0पी0 से प्रभावित गर्भवती महिलाओं का इलाज एवं आयरन कैल्शियम की गोली खिलाने का कार्य आपको करना है। किशोरियों के स्वास्थ्य का ध्यान भी आपको करना होगा इसके लिए इनकी जो जांच होती है उनको कराना होगा तथा कमी पाए जाने पर आयरन, कैल्शियम की गोली देनी होगी। स्वस्थ्य बच्चे अच्छी शिक्षा ग्रहण करेंगे और आगे बढ़ेंगे जनपद में आंगनबाड़ी चलो अभियान चलाया जाएगा जिसमें लाल पीली श्रेण़ी के बच्चों को चिन्हित कर आंगनवाड़ी केंद्रों पर लाकर उनके इलाज एवं पोषण की उचित व्यवस्था की जाएगी। सभी 05 वर्ष तक के बच्चों को पोषण आहार निर्धारित मात्रा में अनिवार्य रूप से वितरित हो अन्यथा गड़बड़ी करने वालों के खिलाफ कठोर कार्यवाही की जाएगी तथा दंडित किया जाएगा। जितने भी आंगनवाड़ी केंद्रों पर दिवसों का आयोजन होता है उनको पूरी निष्ठा और ईमानदारी से कराएं टीकाकरण पर विशेष ध्यान दिया जाए कोई भी गर्भवती महिला या बच्चा टीकाकरण से छूटने ना पाए सभी टीके अनिवार्य रूप से लगाए जाएं।मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार ने कहा कि जो आंगनवाड़ी ठीक से कार्य नहीं कर रही हैं उनकी जिम्मेदारी तय करनी होगी और उस कार्य की समीक्षा सुपरवाइजर करें तथा अपनी रिपोर्ट जिला कार्यक्रम अधिकारी को दें जिससे ऐसे लोगों को चिन्हित कर कार्यवाही की जा सके तभी सुधार होगा। लाल पीली श्रेण़ी के बच्चों में सुधार लाकर जनपद को कुपोषण मुक्त किया जाना है।माननीय विधायक कर्वी चंद्रिका प्रसाद उपाध्याय ने कहा कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अंतर्गत कार्य करने वाले अधिकारी कर्मचारियों के ऊपर बच्चों तथा नागरिकों के उत्तम स्वास्थ्य को ठीक रखने की जिम्मेदारी है जिसे वह पूरी निष्ठा और ईमानदारी से निभाएं। जिसे जो कार्य सौंपा गया है उसे उस कार्य को ठीक तरह से करते हुए अपने उत्तरदायित्व का निर्वाहन करना चाहिए।कार्यक्रम को मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजेंद्र सिंह, डॉक्टर ऋचा पांडे, जिला कार्यक्रम अधिकारी मनोज कुमार, डॉक्टर रूथ, यूनिसेफ, जिला विकास अधिकारी  आर के त्रिपाठी, पंकज मिश्रा आदि ने संबोधित करते हुए अपनी अपनी बात कही।कार्यक्रम में उत्कृष्ट कार्य के लिये चिकित्सकों, ए एन एम, आशाओं तथा आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को प्रशस्ति प्रमाण पत्र तथा शाल भेंट कर सम्मानित किया गयाइस अवसर पर डॉक्टर आर के चौरिहा, डॉक्टर सुधीर अग्रवाल, विधायक कर्वी प्रतिनिधि नीरज शुक्ला एवं अन्य चिकित्सकों सहित आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों, एएनएम तथा आशाएं उपस्थित रही।

मंडल प्रभारी अश्विनी कुमार श्रीवास्तव
कलयुग की कलम राष्ट्रीय समाचार पत्रिका एवं वेब न्यूज चैनल
जनपद चित्रकूट


Share To:

Post A Comment: