इंदौर। 16 जुलाई की रात को लगने वाला चंद्र ग्रहण कुल मिलाकर 2 घंटे 57 मिनट की अवधि तक रहेगा। भारत में चंद्र ग्रहण 16 जुलाई की रात को 1 बजकर 31 मिनट से शुरू हो जाएगा और 17 जुलाई की सुबह के 4 बजकर 31 मिनट पर खत्म हो जाएगा।
सूतक का समय
चन्द्र ग्रहण होने की स्थिति में ग्रहण प्रारंभ होने से 9 घंटे पहले सूतक होता है। सूतक को अशुभ माना जाता है। 16 जुलाई की शाम को 4:31 शुरू हो जाएगा और ग्रहण के साथ ही खत्म हो जाएगा। शुभ काम सूतक काल से पहले ही कर लेने चाहिए।
भारत के अलावा कहां-कहां दिखाई देगा चंद्र ग्रहण
साल का यह आखिरी चंद्र ग्रहण भारत के अलावा कई देशों में दिखाई देगा। यह चंद्र ग्रहण आस्ट्रेलिया, अफ्रीका, एशिया, यूरोप और दक्षिण अमेरिका में दिखाई देगा। 
149 वर्षों के बाद चंद्र ग्रहण का दुर्लभ योग
16-17 जुलाई को लगने वाला चंद्रग्रहण पर कुछ विशेष योग बनेगा। 149 साल पहले तब भी गुरु पूर्णिमा पर चंद्र ग्रहण लगा था तब उस समय चंद्रमा शनि और केतु के साथ धनु राशि में स्थित था, जबकि सूर्य राहु के साथ मिथुन राशि में था। यही दुर्लभ योग दोबारा 16 जुलाई की रात को बनेगा।

ग्रहण पर क्या करें क्या न करें
- ग्रहण के समय मंत्रों का जप लगातार करना चाहिए
- ग्रहण के समय न तो खाना बनाना चाहिए और ना ही कुछ खाना चाहिए
- खाने-पीने की चीजों में तुलसी के पत्ते डाल कर रखना चाहिए।
- ग्रहण में घर के मंदिर के दरवाजे और परदे बंद कर देना चाहिए।
- ग्रहण के समय कोई भी शुभ व नया कार्य शुरू नहीं करना चाहिए।
- ग्रहण के दौरान वायुमंडल में बैक्टीरिया और संक्रमण का प्रकोप तेजी से बढ़ जाता है।
-  ग्रहण के बाद पूरे घर पर गंगाजल से छिड़काव करना चाहिए।
सूर्य और चंद्र ग्रहण- वैज्ञानिक नजरिया
विज्ञान के अनुसार पृथ्वी सूर्य की परिक्रमा करती है जबकि चंद्रमा पृथ्वी के चारो ओर घूमता है। पृथ्वी और चंद्रमा घूमते-घूमते एक समय पर ऐसे स्थान पर आ जाते हैं जब सूर्य, पृथ्वी और चंद्रमा तीनो एक सीध में रहते हैं। जब पृथ्वी धूमते-धूमते सूर्य व चंद्रमा के बीच में आ जाती है। चंद्रमा की इस स्थिति में पृथ्वी की ओट में पूरी तरह छिप जाता है और उस पर सूर्य की रोशनी नहीं पड़ पाती है इसे चंद्र ग्रहण कहते है, वहीं जब चंद्रमा सूर्य और पृथ्वी के बीच में आ जाता है और वह सूर्य को ढ़क लेता है तो इसे सूर्य ग्रहण कहते है।
अगला चंद्र ग्रहण अब कब  
यह साल 2019 का आखिरी चंद्र ग्रहण होगा। अगले वर्ष 2020 में कुल चार चंद्र ग्रहण लगेंगे। जिसमें से पहला 10 जनवरी 2020 को लगेगा। वह पूर्ण चंद्र ग्रहण होगा।
Share To:

Post A Comment: