मप्र / सोने-चांदी के बर्तनों में खाना खाता है सिंचाई विभाग का इंजीनियर, लोकायुक्त ने मारा छापा

भोपाल. लोकायुक्त की टीम ने सीधी जिले के सिंचाई विभाग के एक्जीक्यूटिव इंजीनियर सुनील व्यास के भोपाल और सीधी स्थित ठिकानों पर छापा मारा। इंजीनियर के घर में कार्रवाई के दौरान सोने और चांदी के बर्तन मिले हैं। बताया गया है कि इंजीनियर इन्हीं बर्तनों में खाना खाता है। इसके अलावा करोड़ों की प्रॉपर्टी और करीब 5 लाख के अलग-अलग कंपनियों के शेयर मिले हैं। 

लोकायुक्त पुलिस के मुताबिक, सिंचाई विभाग में पदस्थ कार्यपालन यंत्री सुनील व्यास के राजधानी भोपाल स्थित दाे ठिकानों के अलावा सीधी में उनके आवास तथा दफ्तर में सुबह एक साथ छापामार कार्रवाई की गई, जिसमें उनके पास से अब तक की कार्रवाई में भोपाल के गुलमोहर काॅलोनी और अरेरा कॉलोनी में दो मकान तथा होशंगाबाद जिले में तेरह एकड़ कृषि भूमि के अलावा नकदी और सोने चांदी के आभूषण जब्त किए गए हैं। लोकायुक्त की कार्रवाई अभी जारी है, जिसमें और भी बेनामी संपत्ति के खुलासे की उम्मीद है।

सोने-चांदी के बर्तन तोलने के लिए मंगाया तराजू: लोकायुक्त की टीम ने सोने-चांदी के बर्तन तोलने के लिए तराजू मंगाया, ज्वैलरी में सोने के सिक्के भी मिले हैं। चांदी के दो हाथी, चांदी की आधा दर्जन से मूर्तियां, 100 से ज्यादा सोने के सिक्के, सोने के गिलास, चांदी का डिनर सेट, चांदी का टी सेट और दो दर्जन चांदी की कटोरियां मिली हैं।  

सीधी स्थित आवास और कार्यालय पर आय से अधिक संपत्ति के प्रकरण में लोकायुक्त भोपाल की अलग-अलग टीमों ने छापामार कार्रवाई की। असल में, इंजीनियर के खिलाफ आय से ज्यादा संपत्ति की शिकायत हुई थी। लोकायुक्त ने पहले शिकायत का सत्यापन किया, इसके बाद आरोप सही पाए जाने पर लोकायुक्त ने कार्रवाई की है। 

संपत्ति का मूल्यांकन जारी है

कृष्णा विहार ग्रीन हाइट स्थित बंगले से सोने-चांदी के जेवर, कैश एवं दो गाड़ियां, बैंको की एफडी, लॉकर एवं कई प्रॉपर्टी (अब तक लगभग 13 एकड़ कृषि भूमि की जानकारी प्राप्त ) मिला है। लोकायुक्त की टीम इसका मूल्यांकन कर रही है। 

जमीन, फ्लैट, एलआईसी, एफडी और 5 लाख के शेयर मिले : लोकायुक्त की जांच में एक्जीक्यूटिव इंजीनियर के पास ग्राम बिजलोंन, सीहोर और गेहुंखेड़ा में फार्म हाउस, कोलार रोड पर बंगला, सहयोग परिसर ई-1 ग्रीन सिटी, कृष्णा विहार और अरेरा कॉलोनी में फ्लैट और बंगले दस्तावेज, लोन, एलआईसी, एफडी और लगभग 5 लाख के शेयर मिले हैं।


Share To:

Post A Comment: