हरदोई। आईजीआरएस शिकायतों का समय से निस्तारण न करने वाले अधिकारियों और कर्मचारियों को जिलाधिकारी पुलकित खरे ने लगाई कड़ी फटकार, कहा समय से शिकायतों का निस्तारण करे नही तो सख्त कार्यवाही की जाएगी।

पुलिस से परेशान छात्र ने दी जान, प‍िता ने बताई चौंकाने वाली बात

हरदोई, --- हरपालपुर कोतवाली क्षेत्र में पुलिस से परेशान होकर एक छात्र ने जान दे दी। छात्र का दोस्त एक किशोरी को भगा ले गया था। पुलिस दोस्त के बारे में उससे जानकारी ले रही थी। छात्र के पिता का आरोप है कि पुलिस की पूछताछ से परेशान होकर ही उसने फांसी लगाई। हालांकि थाना पुलिस ने आरोप को गलत बताया है। सीओ का कहना है कि पूरे मामले की जांच कराई जाएगी।
कोतवाली क्षेत्र के ग्राम सेवरिया निवासी विपिन (18) पुत्र अवधेश इंटर का छात्र था। पिता ने बताया कि विपिन के साथ गौरव पुत्र भयन्नू निवासी बलदेवपुरवा पढ़ता था। दोनों के बीच गहरी दोस्ती थी। गौरव पर अरवल थाना के एक गांव निवासी किशोरी को भगा ले जाने का आरोप था। किशोरी के पिता ने गौरव के खिलाफ पुलिस में शिकायत की थी। पुलिस किशोरी को खोज रही थी। जब किशोरी नहीं मिली तो पुलिस ने विपिन को परेशान करना शुरू कर दिया।
पुलिस रोजाना उसे फोन कर जानकारी लेती रहती थी। जिससे विपिन परेशान हो गया। बुधवार को उसने कमरे में तहमद से फांसी लगा ली। विपिन जब काफी देर तक कमरे से बाहर नहीं आया तो परिवारजनों ने उसको आवाज दी और फिर बहन उसे बुलाने के लिए गई। तो देखा कि उसका शव लटक रहा था। जिसे देखकर कोहराम मच गया। ग्रामीण जमा हो गए। पुलिस को सूचना दी गई तो हरपालपुर पुलिस पहुंची। अवधेश का कहना है कि उसके पुत्र ने पुलिस से परेशान होकर जान दे दी।
अरवल थानाध्यक्ष का कहना है कि पुलिस उससे पूछताछ करने तक नहीं गई थी। एक बार फोन पर बात हुई। हरपालपुर थाना प्रभारी ज्ञानेंद्र स‍िंंह ने बताया कि परिवारजनों ने कोई आरोप नहीं लगाया और न ही कोई कारण बताया है। सीओ राकेश वशिष्ठ ने बताया कि जांच कराई जा रही है और जो भी हकीकत होगी उसी के अनुसार कार्रवाई की जाएगी।
Share To:

Post A Comment: