जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा जिला कटनी ग्राम उमर पानी वन मंडल जबलपुर कुंडम प्रोजेक्ट में हजारों एकड़ में आदिवासियों का अतिक्रमण जारी अधिकारियों द्वारा लगातार समझाइश देने पर भी अतिक्रमण रुकने का नाम नहीं ले रहा है।

आदिवासियों द्वारा निरंतर रिजर्व फॉरेस्ट में कब्जा करने का कार्य चल रहा है ।

पहले तो अधिकारियों द्वारा समझाइस दिए जाने पर बात बन जाती थी 

लेकिन आदिवासियों द्वारा अब कुछ भी कर गुजरने की बात कही जा रही है ।

अतिक्रमण से पीछे हटने के लिए तैयार नहीं पिछली सरकार शिवराज सिंह चौहान की बताई जा  रही घोषणा ।

आदिवासी द्वारा कहां जा रहा है कि हमें वन भूमि पर काबिज रहने का अधिकार प्राप्त है ।

और अधिकारियों द्वारा की जा रही कार्यवाही का निरंतर विरोध आदिवासी द्वारा किया जा रहा है।

 हजारों एकड़ जमीन पर आदिवासियों का कब्जा है जिससे पास के लगे ग्रामवासी भी परेशान हैं ।
और इसके लिए आवाज भी उठा रहे हैं की ग्राम के लोगों का व
निस्तार रुकेगा और रूक रहा है उसके साथ ही जंगल में लगे पेड़ों का भी दोहन हो रहा है।

 अगर वन भूमि पर खेती होगी तो पौधे रोपने के लिए फॉरेस्ट विभाग के पास जमीन बाकी नहीं रहेगी।

 इसी के साथ आज दिनांक को वन विभाग के अधिकारी द्वारा कार्यवाही की गई जिसमें आदिवासियों द्वारा हल बैल से खेती करते हुए पाया गया उन्हें बुलाकर समझाइश दी गई लेकिन आदिवासी पीछे हटने को तैयार नहीं है ।

ऐसा लगता है जैसे राजनीतिक संरक्षण उन्हें प्राप्त हो।
अधिकारियों का  यह भी कहना है कि वह महिलाओं और बच्चों को सामने कर देते हैं।

छोटे कर्मचारी तो बात करने में भी डरते है ।

आदिवासी संगठन मुखिया गजराज सिंह गुलजार सिंह नर सिंह पीतम सिंह निरपत सिंह प्रकास सिंह राहुराज सिंह

 शामिल रहे अधिकारी एसएस मरावी उप संभागीय बंधन कुंडम परियोजना मंडल जबलपुर पी के सिंह पीपी अहिरवार आर आई रजिस्टर प्रवीण गोपाल नायडू डिप्टी रेंजर  पटवारी अमित

        लेखक
अब्दुल कादिर खान
  कलयुग की कलम


विडियो देखे- 







Share To:

Post A Comment: