Kkkन्यूज खेल रिपोर्टर दिल्ली- आखिरकार सांस थाम देने वाले खिताबी मुकाबले के बाद विश्व क्रिकेट को अपना नया चैंपियन मिल ही गया। लॉर्ड्स के ऐतिहासिक मैदान पर रविवार रात सुपरओवर में 16 रन बचाते हुए इंग्लैंड ने पहली बार विश्व कप जीता। लगातार दूसरी बार फाइनल में पहुंचने वाली न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए इंग्लैंड के सामने 242 रन का लक्ष्य रखा था। जवाब में इंग्लैंड भी निर्धारित 50 ओवर्स में इतने ही रन बना पाया।सुपरओवर में मैच जाने के बाद इंग्लैंड ने न्यूजीलैंड के सामने 16 रन का लक्ष्य रखा था, यहां पर भी स्कोर टाई ही रहा, लेकिन ज्यादा बाउंड्री लगाने के चलते इंग्लैंड मुकाबले का विजेता घोषित किया गया। यह विश्व कप का पहला फाइनल है जिसका नतीजा सुपर ओवर से निकाला गया हो। 27 साल बाद फाइनल में पहुंचने वाली इंग्लैंड ने 1992 में ग्राहम गूच की कप्तानी में फाइनल खेला था, लेकिन इमरान खान की कप्तानी वाली पाकिस्तान ने उसे विजेता की ट्रॉफी नहीं उठाने दी थी और पहली बार चैम्पियन बनने का गौरव हासिल किया था। मगर इस बार इंग्लिश टीम ने अपनी सरजमीं पर खिताब जीतकर फैंस को खुश होने का मौका दिया।इससे पहले 242 रन के लक्ष्य का पीछा करने उरती इंग्लैंड की शुरुआत बेहद निराशाजनक रही। जेसन रॉय (17) पहली ही गेंद पर मिले जीवनदान को भुनाने में नाकामयाब रहे। छठे ओवर में मैट हेनरी ने निपटा दिया। यहां से कीवी गेंदबाजों ने चढ़ाई शुरू कर दी। एक-एक रन के लिए संघर्ष कर रहे इंग्लिश बल्लेबाज दबाव के चलते बिखरते चले गए। 17वें ओवर में जो रूट (30 गेंदों में 7 रन), 20वें ओवर में जॉनी बेयरस्टो (55 गेंदों में 36 रन), 24वें ओवर में कप्तान इयोन मॉर्गन (22 गेंदों में 9 रन) भी चलते बने।इसके बाद बटलर 59 व स्टोक्स 84 ने शतकीय साझेदारी कर मेजबान को फिर से मैच में ला लिया, लेकिन 196 के कुल स्कोर पर बटलर फर्ग्यूसन का शिकार होकर पवेलियन लौट गए। उन्होंने अपनी अर्धशतकीय पारी में 60 बॉल का सामना कर 6 चौके जड़े। इसके बाद स्टोक्स ने एक छोर थामे रखा और मैच को अंतिम ओवर तक ले गए। अंतिम ओवर में इंग्लैंड को 15 रनों की जरूरत थी और उसमें ओवर थ्रो की वजह से मिले एक चौके व स्टोक्स की ओर से जड़े शानदार छक्के की बदौलत मैच को टाई करा दिया।न्यूजीलैंड की ओर से फर्ग्यूसन व निशम ने 3-3 तथा ग्रेंडहोम व हैनरी ने एक-एक विकेट लिया। इसके पहले इंग्लैंड की धारदार गेंदबाजी के सामने कोई भी कीवी बल्लेबाज क्रीज पर ज्यादा देर तक टिक नहीं पाया। नतीजतन निर्धारित 50 ओवर्स में न्यूजीलैंड 8 विकेट के नुकसान पर 241 रन ही बना पाया। सलामी बल्लेबाज हेनरी निकोलस ने सर्वाधिक 55 रन बनाए तो विकेटकीपर बल्लेबाज टॉम लाथम ने 47 रन का योगदान दिया। इंग्लैंड की ओर से क्रिस वोक्स और लियाम प्लंकेट को 3-3 विकेट मिले। जोफ्रा आर्चर और मार्क वुड के खाते में 1-1 विकेट आया।

मैन ऑफ द टूर्नामेंट- केन विलियसमन
Share To:

Post A Comment: