माधौगंज (हरदोई)।
इज्जत घरों की दीवारें भी स्वछता अभियान की लाज नही बचा पा रही है। गांव में बने शौचालयों की हकीकत बिना ढक्कन के घटिया सीवर बता रहे हैं। अधूरे शौचालय ऐसे भी है जिन के ऊपर की छत नही डाली गईं है। बिना सीट व बिना पल्ले के ही ओडीएफ का कोरम पूरा हो रहा है। 
विकास खण्ड की ग्राम पंचायत में स्वच्छ भारत मिशन बदहाली के आंसू बहा रहा है। अरविन्द , किशनकुमार आदि लोंगों के घरों की महिलाएं शौचालय दुरुस्त न होने के कारण शौच के लिए बाहर जाती हैं। इज्जत घरों का नाम रोशन करने वाले जिम्मेदारों अभी तक गड्ढों पर ढक्कन नही डलवा सके हैं। घटिया किस्म के मसाले से जुड़ी दीवारें, पल्लों को नही रोक पा रही हैं। कई शौचालयों के पल्ले उखड़ चुके है तो कई के पल्ले अभी तक नही लगाए गए हैं। जिसके कारण स्वच्छता मिशन का सपना टूटता नजर आ रहा है। गांव के लोग बताते हैं कि मजरा मढ़िया में भी शौचालय दुरुस्त नही हैं जिसके कारण लोग शौंच के लिए घरों से बाहर जाने को मजबूर हैं। सुधार न किए जाने पर ग्रामीण उच्च अधिकारियों से शिकायत करेंगे।
Share To:

Post A Comment: