सीएम हेल्पलाईन की शिकायत अटेण्ड नहीं की तो लगेगी सीआर में टीप

Kkkन्यूज कटनी- राज्य शासन के महत्वपूर्ण सीएम हेल्पलाईन में एल-1 या एल-2 के अधिकारियों द्वारा शिकायतों को बिना अटेण्ड किये उच्च लेवल पर पहुंचने की प्रवृत्ति को राज्य शासन ने गंभीरता से लिया है। अब यदि सीएम हेल्पलाईन की शिकायतों में किसी स्तर के अधिकारी ने अपनी जिम्मेदारी के अनुरुप समय सीमा में कोई कार्यवाही किये बिना अगले लेवल पर प्रेषित होने दिया, तो उस अधिकारी को वार्षिक गोपनीय चरित्रावली में जिम्मेदारी से काम नहीं करने की टीप अंकित की जायेगी।सीएम हेल्पलाईन में दर्ज शिकायतों के निराकरण की समीक्षा समय-समय पर मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव एवं विभाग प्रमुख अधिकारियों द्वारा की जाती है। अधिकारी अपनी जिम्मेदारी का निर्वहन नही कर शिकायत को बिना कार्यवाही उच्च स्तर पर प्रेषित होने दे रहे हैं। जिससे हेल्पलाईन का परिचालन एवं प्रदर्शन प्रभावित होता है। राज्य शासन के सामान्य प्रशासन विभाग द्वारा जारी निर्देशानुसार एैसे अधिकारी, जिनके द्वारा शिकायतों का बिना निस्तारण किये अगले लेवल तक प्रेषित होने दे रहे हैं या जिनके खाते में संतुष्टिपूर्ण निराकरण का प्रतिशत औसत से कम होगा, उन अधिकारियों की वार्षिक गोपनीय चरित्रावली में सीएम हेल्पलाईन में जिम्मेदारी से काम नहीं करने की टीप अंकित की जायेगी।

सोनू त्रिपाठी ग्रामीण रिपोर्टर कलयुग की कलम कटनी
Share To:

Post A Comment: