जन पंचायत ढीमरखेड़ा का बहुत ही बड़ा लंबा एरिया है 2 लाख की आबादी में फैला हुआ जनपद पंचायत जिले का सबसे बड़ा क्षेत्र लगता है।

 जबलपुर डिंडोरी उमरिया शहडोल की सीमाओं को छूता हुआ है ।

उसके साथ ही कई बड़ी समस्याओं से जूझ रहा है।

 जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा जहां तहसील कार्यालय एसडीएम कार्यालय महिला बाल विकास विभाग और अन्य विभागों के कार्यालय बने हुए हैं वही कुछ बडे अधिकारी जो कि ढीमरखेड़ा में पदस्थ हैं। जिनकी सेवाओं से वंचित हो रहे ग्रामीण

👉🏻एस.डी.ओ.पी .एच ई विभाग एस.डी.ओ पी. डब्ल्यू.डी. विभाग एस.डी.ओ.पी वन 

 अगर यह जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा पर बैठना शुरू कर दें तो ग्रामीणों को बड़ी राहत होगी जिन कार्यों के लिए वह परेशान हो रहे हैं वह कार्य आसानी के साथ होना प्रारंभ हो जाएंगे

👉🏻इसके साथ जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा में पोस्ट आफिस रजिस्ट्री का कार्य नहीं होता है जबकि सरकारी दस्तावेजों को पोस्ट ऑफिस से रजिस्ट्री के माध्यम से बाहर भेजा जाता है इसके लिए कटनी या पान उमरिया जाना पड़ता है जबकि सरकारी काम काज में रजिस्ट्री एक बड़ा माध्यम है और इसकी सुविधाएं सरकारी कर्मचारियों से लेकर आमजन तक आवश्यक होती हैं सरकारी कार्यालयों से रजिस्ट्री के माध्यम से बड़े कार्य किए जाते हैं दस्तावेजों का सुरक्षित आदान-प्रदान होता है लेकिन पोस्ट ऑफिस में ऐसी सुविधाएं न होने की वजह से अधिकारियों से ग्रामीणों तक एक बड़ी समस्या बनी हुई है


👉🏻 बाहर से दौरे के लिए या टाइम बे टाइम रुकने के लिए अधिकारी कर्मचारी जनप्रतिनिधियों को सबसे बड़ी असुविधा जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा में जो हो रही है वह यह है कि जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा में रेस्ट हाउस की व्यवस्था नहीं है जबकि तहसील मुख्यालय एसडीएम कार्यालय कोर्ट और सभी विभागों के कार्यालय उपलब्ध हैं।

👉🏻स्वास्थ्य के संबंधी एक हॉस्पिटल उपलब्ध है लेकिन डॉक्टर और दवाइयों की मार गरीबों को लग ही रही है आपातकालीन स्थिति में मरीजों का इलाज भी दूभर हो रहा है उन्हें कटनी जबलपुर ही रेफर किया जा रहा है क्योंकि सुविधाएं  नहीं हैं।
  इन सुविधाओं  की पूर्ति के लिए सरकारों और पदाधिकारियों को प्रयासः करना चाहिए यह आवश्यकताओ की पूर्ति होना आवश्यक है ।

         लेखक
 अब्दुल कादिर खान
 कलयुग की कलम  मोबाइल नंबर 97536 17419
Share To:

Post A Comment: