पाली(हरदोई) आज से सैकड़ो साल पहले रुई व्यवसाई की एक दिन  की  कमाई से बने भट्टों बाले शिवालय के भव्य विशालकाय शिव मंदिर  में विराजमान महादेव पूरी करते हैं भक्तों की हर मुराद 

 वैसे तो गर्रा नदी के दक्षिण तट पर पाल शासको द्वारा बसाया गया पाली नगर विभिन्न धार्मिक और ऐतिहासिक धरोहरों के लिए पूरे इलाके में प्रसिद्ध है लेकिन नगर के मोहल्ला बेनीगंज के शिवालय परिसर मे बने  करीब 100 वर्ष पुराने विशालकाय शिव मंदिर की बात  ही अलग है इसके बारे में कहा जाता है कि अंग्रेजी हुकूमत के समय कहीं बाहर से आए नगर के प्रतिष्ठित मिश्रा परिवार के पूर्वज यहां बस गए उन्होंने रुई का व्यवसाय शुरू किया जिसकी एक दिल की कमाई से शिवालय समेत उसके परिसर में महादेव के एक विशाल भव्य शिव मंदिर का निर्माण कराया रानी विक्टोरिया के समय में धार्मिक स्थलों के कराए गए सर्वे मे भी दर्ज हुआ तभी से शिव भक्त पूजा अर्चना करते चले आ रहे हैं खासकर सावन महीने के सोमवारो को यहां पर पूजा-अर्चना करने वाले भक्तों का तांता लगा रहता है महादेव में अगाध श्रद्धा रखने वाले  शिव वर्मा बाजपेई रूद्रदत्त चौधरी  का कहना है कि यह स्थान इस प्राचीन होने के साथ ही अपने में अद्भुत है इस स्थान पर आकर आज तक जिसने भी महादेव जी से जो मांगा वह पाया लोगों की श्रद्धा से जुड़ा यह पवित्र स्थान भक्तों के बीच एक अनोखी छटा बिखेर रहा है नगर के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल का जीर्णोद्धार पूर्व चेयरमैन कमलाकांत बाजपेई ने अपने समय में कराया था
Share To:

Post A Comment: