आज कांग्रेस कमेटी हरदोई ने उत्तर प्रदेश के उन्नाव जिले की पीड़िता और उसके परिवार को बाहुबली विधायक के अत्याचारों से न्याय दिलाने के संदर्भ में ज्ञापन/ मांग पत्र मय जनमानस हस्ताक्षर दिया।

ज्ञापन में कहा गया कि अवगत कराना है कि उत्तर प्रदेश के हालात बेहद खराब हो गए हैं। कानून व्यवस्था पूर्ण रूपेण ध्वस्त और बेपटरी हो गई है। उत्तर प्रदेश अपराधियों के लिए उत्तम प्रदेश बन गया है। उत्तर प्रदेश में बलात्कार, दुराचार, लूट, डकैती की घटनाएं आम हो गई हैं। प्रदेश में बेटियां और महिलाएं सुरक्षित नहीं हैं। उन्नाव बलात्कार मामले में सत्ताधारी पार्टी के एक बाहुबली विधायक के जुल्म के खिलाफ आवाज उठाने वाली उन्नाव की बेटी और उसके परिवार के साथ जो निर्मम अत्याचार हुआ है उसे देख सुनकर उ.प्र.का एक एक नागरिक आक्रोशित है ।

आगे कहा गया कि महामहिम इस मामले में हुई प्रशासनिक लीपापोती और मिलीभगत के चलते हम सबका विश्वास उत्तर प्रदेश सरकार से उठ गया है। उत्तर प्रदेश सरकार पर अविश्वास प्रकट करते हुए सुप्रीम कोर्ट ने भी उन्नाव रेप मामले से जुड़े पूरे केस को दिल्ली ट्रांसफर करने का आदेश दिया है, जिससे न्याय की उम्मीद जगी है, परंतु आज भी उत्तर प्रदेश की बच्चियों और महिलाओं मे भय का माहौल व्याप्त है। प्रदेश में महिलाओं की सुरक्षा को लेकर बड़े और आमूलचूल कदम उठाने की जरूरत है। कांग्रेस पार्टी उत्तर प्रदेश की बेटियों व समस्त जनता की तरफ से हस्ताक्षर अभियान ( दिनांक 3 अगस्त से 6 अगस्त 2019 तक) चलाकर आपसे हस्तक्षेप करने का निवेदन करती है। उन्नाव की बेटी, उसके अधिवक्ता और पीडिता के पूरे परिवार को न्याय दिलाने के प्रांतीय आह्वान पर जिला कांग्रेस कमेटी, हरदोई के निवर्तमान अध्यक्ष डॉ राजीव सिंह लोध एवं  शहर कांग्रेस कमेटी के निवर्तमान अध्यक्ष शशि भूषण शुक्ला 'शोले'  के संयुक्त नेतृत्व में हस्ताक्षर अभियान चलाया गया। 

ज़िलाधिकारी को प्रेषित मांगपत्र में मांग की गई कि उन्नाव की पीड़िता और उसके अधिवक्ता को उच्च स्तरीय इलाज मुहैया कराया जाए और पीड़िता एवं उसके परिवार की सुरक्षा एवं संरक्षा की जाए। पीड़ित परिवार को ₹ 1 करोड़ की आर्थिक मदद की जाए। पीड़िता के चाचा को तत्काल 1 महीने के पैरोल पर रिहा किया जाए। कहा गया, महिलाओं पर हिंसा के खिलाफ पुलिस और न्यायिक व्यवस्था में सुधार के लिए विशेष आयोग गठित किया जाए। निवेदन किया गया कि महामहिम, उक्त विषय गंभीर है समाज को शर्मसार करने वाला है आप स्वतः संज्ञान लेकर सम्बंधित अधिकारियों को दिशा निर्देश निर्गत करे।

उक्त ज्ञापन/मांग पत्र कार्यक्रम में प्रमुख रूप से सुनीता मित्रा, अनुसूचित जाति विभाग के चेयरमैन प्रेम प्रकाश वर्मा, उपाध्यक्ष वृंदावन बिहारी श्रीवास्तव, निवर्तमान महासचिव आशुतोष गुप्ता, देवेंद्र विक्रम सिंह, पवन गुप्ता, अमीर अहमद, रियाज अहमद, राजीव श्रीवास्तव, अरविंद सिंह, सर्वेश कुशवाहा, गोविंद सिंह एवं कांग्रेस जन उपस्थित रहे।
Share To:

Post A Comment: