दंगल के बीच उतरे युवा और बालिकाओं ने दिखाया अपना जौहर  

 कोई पहलवान ने मारी बाजी तो कोई कुश्ती से हुआ बाहर 

जन्माष्टमी पर्व पर उमरियापान के इमलिया में हुआ दंगल का आयोजन

(अंकित झारिया उमरियापान रिपोर्टर)

उमरियापान:- उमरियापान के इमलिया गांव में जन्माष्टमी के अवसर पर शुक्रवार को दंगल कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन किया गया। दंगल में छोटे-छोटे बच्चे, युवा पुरूष, बुजुर्ग और महिला वर्ग (बालिकाओं) ने भाग लिया। कटनी, जबलपुर,जुझारी, कौड़िया, स्लीमनाबाद, सिहोरा सतना, हंडिया,सागर ,पतरोई, टोपी सहित आसपास के क्षेत्र से आए पहलवानों ने जोर-आजमाइश कर दांव-पेच दिखाए। दंगल के इस उठापटक के जौहर में किसी ने बाजी मारी तो कोई दंगल से बाहर हुआ। प्रतियोगिता में स्लीमनाबाद के साहिल ने जबरदस्त प्रदर्शन करते हुए सबसे ज्यादा पांच कुश्तियां जीती।वहीं महिलाओं ने भी जबरदस्त जौहर दिखाया। कुश्ती दंगल में विजेता को शील्ड सहित नगद राशि देकर पुरुस्कृत किया गया।कार्यक्रम का आयोजन श्री कृष्णा बाल समाज समिति इमलिया के द्वारा किया गया। आयोजन समिति के सदस्यों ने बताया कि इमलिया के आसमानी मंदिर पर बीते 52 वर्षों से लगातार जन्माष्टमी के अवसर पर दंगल कुश्ती प्रतियोगिता का आयोजन होता है। इस दौरान विधायक विजयराघवेंद्र सिंह,जनपद अध्यक्ष साधना चौरसिया, राजेश चौरसिया, जितेन्द्र अरोरा, कृष्णा हल्दकार, कोदूलाल हल्दकार,पूरन हल्दकार, प्रभुदयाल विश्वकर्मा, राजीव मोहन सिंह, मतंगेराम हल्दकार, राजाराम हल्दकार,शैलेश दुबे, अमित गर्ग, बंटी हल्दकार, दीपक हल्दकार,सचिन हल्दकार,सत्यप्रकाश हल्दकार,अजय विश्वकर्मा, रोशन, सुरजीत, उदयराज,शुभम, चंदन सहित बड़ी संख्या में ग्रामीणों की उपस्थिति रही।निर्णायक की भूमिका कोदुलाल हल्दकार ने निभाई।दोपहर 2 बजे से शुरू हुईं दंगल प्रतियोगिता शाम 7 बजे तक चली।





Share To:

Post A Comment: