जिलाधिकारी की अध्यक्षता में शासन द्वारा निर्धारित बिंदुओ से संबंधित प्रगति समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में हुई संपन्न

चित्रकूट-जिलाधिकारी शेषमणि पाण्डेय की अध्यक्षता में शासन द्वारा निर्धारित बिंदुओं से संबंधित प्रगति समीक्षा बैठक कलेक्ट्रेट सभागार में संपन्न हुई। जिलाधिकारी ने चिकित्सकों की उपस्थिति, दवाओं की उपलब्धता, एंबुलेंस संचालन, टीकाकरण, वेक्टर जनित रोग डेंगू, निर्माण कार्य, ग्राम स्वराज अभियान, छात्रवृत्ति वितरण, मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना, पेंशन, मुख्यमंत्री आवास, प्रधानमंत्री ग्रामीण आवास, शहरी आवास, एनआरएलएम, मनरेगा, पेयजल योजनाएं, हैंडपंपों का अधिष्ठापन, पारदर्शी किसान योजना, वर्मी कंपोस्ट,मृदा परीक्षण, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, फसल ऋण मोचन योजना, स्वच्छ भारत मिशन, पाठ्यपुस्तक यूनीफार्म, जूतामोजा वितरण, नई सड़कों के निर्माण, राशन कार्ड आधार सीडिंग व फीडिंग, वृक्षारोपण, खेत तालाब योजना, उद्यानीकरण, परती भूमि विकास, चेकडैम निर्माण, तालाबों का जीर्णोद्धार आदि की समीक्षा बैठक संबंधित अधिकारियों से की। जिलाधिकारी ने जनपद स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए जिन विभागों के कार्यो की प्रगति खराब है वह संबंधित अधिकारी अपने-अपने कार्यदायी संस्थाओं के साथ अलग से बैठक कराएं, बैठक में परियोजना प्रबंधक सेतु निर्माण निगम के अनुपस्थित होने तथा अधिशासी अभियंता प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना द्वारा सड़कों की टेंडर प्रक्रिया समय से ना पूर्ण कराए जाने पेयजल योजनाओं में परियोजना प्रबंधक जल निगम अधिशासी अभियंता विद्युत द्वारा रुचि ना लेने पर इनसे जवाब तलब कराए जाने के निर्देश दिए। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना की समीक्षा में जिला समाज कल्याण अधिकारी को निर्देश दिए कि 16 अगस्त 2019 को विवाह की तिथि निश्चित की जाए इसके लिए अभी से आवेदन कराए जाएं इस विवाह में अल्पसंख्यकों को भी लाभ दिया जाए। 181 महिला हेल्पलाइन का प्रचार-प्रसार कराया जाए। जननी सुरक्षा योजना वह संस्थागत प्रसव में प्रगति कम होने पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी से स्पष्टीकरण लिया जाए। उन्होंने कहा कि अगर कोई चिकित्सक कार्यों में लापरवाही करता है तो उसके खिलाफ सख्त कार्यवाही की जाए। उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी से यह भी कहा कि पेयजल योजनाओं में जिन जिन विभागों की आंशिक चल रही है उन सभी अधिकारियों का भी जवाब तलब किया जाए और कहा कि इन योजनाओं की जांच भी कराई जाए। उन्होंने कहा कि जिन जिन विभागों के विकास कार्य चल रहे हैं वह शासन की मंशा के अनुरूप गुणवत्ता युक्त कार्य कराएं तथा जिन जिन कार्यदायी संस्थाओं के निर्माण कार्य पूर्ण हो गए हैं वह तत्काल संबंधित विभाग को हैंड ओवर कराएं। आंगनबाड़ी केंद्रों के निर्माण कार्य में प्रगति बहुत कम है इसको बढ़ाया जाए जिसमें डीसी मनरेगा को निर्देश दिए की सभी खंड विकास अधिकारियों से जवाब तलब करें और उसकी प्रगति बढ़ाएं जिलाधिकारी ने वृक्षारोपण के संबंध में कहा कि सभी नोडल अधिकारी अपने अपने क्षेत्र का निरीक्षण अवश्य कर लें और जो विभाग वार लक्ष्य दिया गया है उसका शत-प्रतिशत अनुपालन कराएं। 9 अगस्त 2019 को वृहद वृक्षारोपण का कार्यक्रम कराया जाना है प्रभागीय वनाधिकारी को निर्देश दिए कि 9 अगस्त 2019 के पूर्व स्थलवार विवरण सहित सूची उपलब्ध कराई जाए। उन्होंने सभी जिला स्तरीय अधिकारियों को निर्देश दिए अपने अपने विभागीय लक्ष्य के सापेक्ष प्रगति बढ़ाई जाए यह जनपद नीति आयोग में चयनित है ताकि किसी बिंदु पर रैंकिंग कम ना हो अभी से यह सुनिश्चित कर लिया जाए।बैठक में मुख्य विकास अधिकारी डॉ महेंद्र कुमार, प्रभागीय वनाधिकारी कैलाश प्रकाश, जिला विकास अधिकारी आरके त्रिपाठी, परियोजना निदेशक अनय कुमार मिश्रा, अपर मुख्य चिकित्सा अधीक्षक एनके कुरेशिया, उप निदेशक कृषि  टी0पी0 शाही, जिला पंचायत राज अधिकारी राजबहादुर सहित संबंधित अधिकारी व कार्यदायी संस्थाएं मौजूद रहे।


प्रभारी़ अश्विनी कुमार श्रीवास्तव
कलयुग की कलम राष्ट्रीय समाचार पत्रिका एवं दैनिक वेब न्यूज चैनल
*जनपद* चित्रकूट
Share To:

Post A Comment: