सुभाष चंद्र KKK न्यूज रिपोर्टर नैनी        

प्रयागराज घूरपुर गुडिया के त्योहार के मौके पर गुड़िया की पिटाई वर्षों से चली आ रही परम्परा एवं महिलाओं के साथ हो रहे अत्याचारों के विरूद्ध आज घूरपुर बाजार में प्रगतिशील महिला संगठन नेे रैली निकाली।
क्षेत्र के विभिन्न गावों से आई महिलाओं, युवतियों व बच्चियों ने हाथों में सुसज्जित स्लेगन युक्त तख्तियां, झंण्डे बैनर पकड़े हुए थे। रैली में सभी ने नारे लगाए, “बलात्कारी विधायक की रक्षा बन्द करो” और सवाल पूछा “उन्नाव पीड़िता पर हमला कैसे हुआ ? योगी सरकार जवाब दो - जवाब दो”,
साथ में “गुड़िया को पीटना बंद करो”, “दोयम दर्जा मुर्दाबाद”, “गुड़िया पढ़ने जाएगी, नया जमाना लाएगी”, “गुड़िया आगे आएगी, नया जमाना लाएगी”, “गुड़िया डाक्टर बनेगी, नया जमाना लाएगी”, “घर के सब काम गुड़िया करे, नहीं चलेगा, नहीं चलेगा”, “गुड़िया नेता बनेगी, नया जमाना लाएगी”, “दहेज के लेनदेन पर रोक लगाओ”, “मनुवादियों होश में आओ, महिलाओं पर हमले बन्द करो”, “गुड़िया के साथ इलाज में भेदभाव बंद करो”, “बराबर काम, बराबर दाम देना होगा”, आदि।
सभा के दौरान वक्ताओं ने कहा मोदी-योगी सरकार बेटी बचाओ, बेटी पढ़ाओं का नारा झूठा व दिखावा है, उन्नाव रेप कांड में पुलिस और सरकार आरोपित विधायक के पक्ष में खड़ी रही, पीड़िता की पैरवी कर रहे पिता की थाने में पीट-पीट कर हत्या करवा दी, चाचा को फर्जी मुकदमें में जेल भेज दिया, प्रशासन द्वारा प्राप्त सुरक्षा के बावजूद पीड़ता समेत परिवार पर जानलेवा हमला कराया, छात्राएं जब अपनी सुरक्षा की मांग उठाती हैं, तो सरकार उन पर लाठियां बरसती है।
भारतीय समाज में आज भी मान-सम्मान के नाम पर लड़कियों के साथ शिक्षा-कोचिंग, नौकरी,, शादी, घर के काम में बेटा-बेटी में भेदभाव जारी है।
इस मौके पर ध्रुवपती,निर्मला, पार्वती, मंजु, शबनम,कोमल, , सरला, सविता, ऊषा, सुषमा, प्रीती, सिंपी,शांतिदेवी,शीला निषाद, तारामनी,निर्मला,पार्वती,सोनम,शालिनी,स्नेहा, सहदेई आदि उपस्थित रही सभा का संचालन आकृति सागर ने किया अध्यक्षता श्यमकली ने किया,आराधना,प्रीती ने क्रांतिकारी कजरी गीत सुनायी।

Share To:

Post A Comment: