पांच लोगों ने मिलकर बैल को मारा जान से ,पुलिस विभाग ढीमरखेड़ा मौन

KKK 24X7.NEWS /ढीमखेडा 

कटनी जिले के जनपद पंचायत ढीमरखेड़ा के अंतर्गत ग्राम पंचायत कटरिया निवासी सुरेश राय ने लगाया आरोप की गोलू कोल, मुन्ना खां, वकील खान, एवं गोलू कोल के बताए अनुसार सुमेरा गोण, सेलू बेहना इन लोगों द्वारा बैल को क्रूरता से निर्मम हत्या की गई है। सुरेश राय द्वारा अपने कथन में यह बताया गया कि बैल को प्रतिदिन की भांति घूमने छोड़ा जाता था अपने सही टाइम पर घर वापस आ जाता था किंतु जब बैल 2 दिनों से घर नहीं पहुंचा तो सुरेश राय एवं उनके परिवार द्वारा बैल की तलाश करने हेतु ग्राम के ही मूंग फसल बोए किसानों से जानकारी ली तो गोलू कोल ने जानकारी दी आपका बैल हमारी फसल को भारी छति नुकसान पहुंचाता था इसलिए हम परेशान होकर बैल को रस्सी से बांध दिये है। आप देख ले बैल यहीं कहीं होगा सुरेश राय उसी के बताए अनुसार अपने बैल को देखने गया तो बैल मृत हालत में झाड़ियों के बीच उसी की जमीन में पड़ा हुआ था। बैल मालिक ने म्रत बैल को देखकर बहुत पीड़ित उत्तपन्न होते हुए भी साहस बनाकर ग्राम कोटवार को बुलाया एवं घटना स्थल दिखाया । मृत पशु की शिकायत थाना ढीमरखेड़ा को की गई एवं पशु चिकित्सक को जानकारी दी गई जिससे बैल का मुलाहिजा किया गया जिसमें पशु के अनेकों जगह मार पीट के निशान साबित हुये।मुंह,पेट, पीछे की दोनों टांगों व अन्य ।बतादे की बैल मालिक के पास आरोपी पहुंच कर अपनी गलती शिवकार करते हुए कहा गया कि राजीनामा ले लो और म्रत है बैल की राशि लेलो । सुरेश राय ने कहा में तो न राजीनामा लेउगा नहीं ही राशि इतना कहते ही बौखलाए आरोपी गणों द्वारा धमकी दी गई कि पूरे परिवार को जान से मार देंगे।  हमारी बातें मान जाओ, फिर भी न्याय पाने के लिए परिवार की परवाह नहीं कर रहा है।

न्याय चाहिए,न्याय मिलेगा या नहीं। 

ढीमरखेड़ा पुलिस को 13 जून को शिकायत की गई थी। पुलिस किन कारणों से नहीं कर रही है जांच।

आज दिनांक तक नहीं मिली है शिकायत की कापी बहला फुसलाकर बैल मालिक को थाने से भगा दिया जाता है।

शिकायतकर्ता है परेशान लगभग तीन महीने से थाने के चक्कर काट,काट कर हाताश होकर बैठ गया है अपने घर पर नहीं मिल रहा है न्याय।

पत्रकार पहुंचे ढीमरखेड़ा थाना  टी.आई.रेखा प्रजापति, से मामले की जानकारी मांगने पर भड़क उठी नहीं मिला कोई जवाब।



Share To:

Post A Comment: