KKK न्यूज़ ब्यूरो रिपोर्ट
        प्रयागराज
विकास कुमार पटेल

स्मार्ट सिटी योजना के तहत यातायात व्यवस्था को सुगम एवं सुचारू बनाने के लिए जिलाधिकारी ने की बैठक
पार्किंग की समुचित व्यवस्था न करने वाले संस्थानों के विरूद्ध की जायेगी कड़ी कार्रवाई

 जिलाधिकारी, प्रयागराज
बिना परमिशन होर्डिंग, बैनर, पोस्टर लगाने पर होगी सख्त कार्रवाई-जिलाधिकारी
31 जुलाई 2019 प्रयागराज।
जिलाधिकारी भानुचंद्र गोस्वामी की अध्यक्षता में संगम सभागार में स्मार्ट सिटी योजना के अन्तर्गत जनपद प्रयागराज नगर क्षेत्र में यातायात व्यवस्था को सुगम एवं सुचारू बनाये जाने के लिए नगर क्षेत्र में मुख्य सड़क के किनारे पर स्थित स्कूल, कालेज, प्राइवेट हाॅस्पिटल, नर्सिंग होम, कोचिंग संस्थान, गेस्ट हाउस, व्यापारी वर्ग के प्रतिनिधियों के साथ अलग-अलग बैठक की। बैठक में जिलाधिकारी ने कहा कि आप लोग अपने-अपने स्थानों पर पार्किंग की व्यवस्था दुरूस्त करें। जिलाधिकारी ने स्पष्ट किया कि किसी भी हाल में उक्त संस्थानों के बाहर अवैध पार्किंग स्वीकार्य नहीं है। उन्होंने यह भी कहा कि अगर पार्किंग की उचित व्यवस्था नहीं की गयी तो उनके खिलाफ सख्त कार्रवाई की जायेगी। 
जिलाधिकारी ने बैठक में सर्वप्रथम प्राइवेट हाॅस्पिटल और नर्सिंग होम के प्रतिनिधियों से कहा कि जिनके पास पार्किंग स्थल मुहैया है परन्तु संकेतक बोर्ड न होने की वजह से पार्किंग की जानकारी तीमारदारों को नहीं हो पाती है, जिससे वे अपनी गाड़ियों को रोड़ के किनारे पार्क कर देते है उन उपस्थित हाॅस्पिटल एवं नर्सिंग होम के मालिको को निर्देशित किया कि वे अपने संकेतक बोर्ड जिस पर पार्किंग चिन्ह लगा हो कि समुचित व्यवस्था तत्काल करें। उन्होंने यह भी कहा कि इस व्यवस्था के लिए वे गार्ड की व्यवस्था स्वयं करे जो पार्किंग के सम्बन्ध में तीमारदारों को बता सके। किसी भी हाॅस्पिटल व नर्सिंग होम के सामने अवैध पार्किंग न हो, इसका विशेष ध्यान रखा जाय।
गोस्वामी ने स्कूल-कालेजों के प्रतिनिधियों से वार्ता की तथा उन्हें निर्देशित किया कि वे अपने स्कूल, कालेज में पार्किंग की उचित व्यवस्था सुनिश्चित करें। उन्होंने कहा कि अभिभावकों के साथ मीटिंग कर उन्हें गाड़ी पार्क करने के सम्बन्ध में जागरूक करे जिससे यातायात व्यवस्था प्रभावित न हो। जिलाधिकारी ने यह भी सुझाव दिया कि स्कूल, कालेज के प्रबन्धक आपस में वार्ता कर स्कूल की छुट्टी के समय में 15-30 मिनट का अन्तराल रखे, जिससे कि एक ही समय छुट्टी होने की वजह से लगने वाले जाम से बचा जा सके। 
जिलाधिकारी ने कोचिंग संस्थानों और गेस्ट हाउस मालिकों एवं व्यापारी वर्ग के प्रतिनिधियों को भी निर्देश दिया कि वे अपने यहाँ हर हाल में पार्किंग व्यवस्था सुनिश्चित करे। उन्होंने स्पष्ट कहा कि पार्किंग अवैध पाए जाने पर सख्त से सख्त कार्रवाई होगी।  गोस्वामी ने साथ ही कोचिंग संस्थान के मालिकों को शहर की दीवारों में बिना परमिशन होर्डिंग, बैनर, पोस्टर न लगाने की भी सख्त हिदायत दी है।


Share To:

Post A Comment: